| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
2608 लोगों ने मतदान केन्द्र जाकर भी नहीं डाला वोट

मध्यप्रदेश में दूसरे चरण में 16 संसदीय क्षेत्रों के लिये हुये मतदान में 91 लाख 92 हजार 751 मतदाताओं ने वोट डालने के लिये मतदाता फोटो परिचय पत्र का प्रयोग किया। यह 86.06 प्रतिशत है। कुल 14 लाख 88 हजार 540 लोगों ने भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित अन्य पहचान अभिलेखों का उपयोग कर मतदान किया। इसके अलावा 2608 मतदाताओं ने मतदान केन्द्र में जाकर अपना सत्यापन तो कराया लेकिन किसी भी उम्मीदवार को वोट नहीं दिया।
जिन मतदाताओं ने भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित 14 वैकल्पिक अभिलेखों का उपयोग कर मतदान किया उनमें 29098 श्योपुर जिले में, मुरैना में 70919, भिण्ड में 91459, ग्वालियर में 91190, दतिया में 23581, शिवपुरी में 67312, गुना में 38587, अशोक नगर में 56137, सागर 43143, टीकमगढ़ 23895, छतरपुर 30074, दमोह 22508, विदिशा 16793, सीहोर 922, राजगढ़ 57783, शाजापुर 78963, देवास 27813, खण्डवा 33924, बुरहानपुर 15599, खरगौन 62340, बड़वानी 46010, झाबुआ 44948, धार 149573, इंदौर 107096, उज्जैन 66111, रतलाम 80453, मंदसौर 29178, नीमच 36611 और अलीराजपुर जिले में 46520 मतदाताओं ने 14 वैकल्पिक अभिलेखों का उपयोग कर मतदान किया।
जिन 2608 लोगों ने मतदान केन्द्र में जाकर अपना सत्यापन कराकर भी किसी को वोट नहीं दिया उनमें से 5 श्योपुर, 6 भिण्ड, 476 ग्वालियर, 6 दतिया, 7 शिवपुरी, 4 गुना, 8 अशोक नगर, 402 सागर, 14 टीकमगढ़, 337 छतरपुर, 149 दमोह, 24 राजगढ़, एक सीहोर, 10 देवास, 2 खण्डवा, 2 बुरहानपुर, 8 खरगौन, 6 झाबुआ, 7 धार, 178 इन्दौर, 175 उज्जैन, 12 रतलाम, 14 मंदसौर में हैं।


मुरैना, विदिशा, शाजापुर, बड़वानी और अलीराजपुर में ऐसा कोई मतदाता नहीं रहा।
दिनेश मालवीय#प्रलय श्रीवास्तव