| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
 
लोकसभा निर्वाचन 2009 भोपाल संसदीय क्षेत्र का चुनाव सतर्कता और निष्पक्षता के साथ सभी अधिकारी आपस में समन्वय बनाकर सम्पन्न करायें। मतदाता महत्वपूर्ण व्यक्ति होता है उसे मतदान में कोई कठिनाई न आए। यह बात भोपाल संभागायुक्त डॉ. पुखराज मारू ने आज गांधी मेडीकल कालेज के सभागार में जोनल और पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक में कही। उन्होंने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव की तरह ही आगामी लोकसभा चुनाव भी शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न करायें। बैठक में सभी पर्यवेक्षक भी मौजूद थे।
बैठक में आई.जी. श्री शैलेन्द्र सिंह श्रीवास्तव ने कहा कि भ्रमण के दौरान पर्यवेक्षक जो निर्देश दें उन पर सतर्कता से कार्रवाई कर उसका पालन करें। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया में लगे हर व्यक्ति को क्रियाशील होकर अपनी डयूटी पूरी सतर्कता से निभानी है। डी.आई.जी श्री अशोक अवस्थी ने कहा कि पुलिस अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में निरंतर भ्रमण करें और कहीं भी आचार संहिता का उल्लंघन नजर आए तो स्वप्रेरणा से तत्काल कार्रवाई करें। सभाओं और रैलियों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश देते हुए असामाजिक तत्वों के खिलाफ भी शीघ्र कार्रवाई करने के लिए उन्होंने कहा।
कलेक्टर श्री शिव शेखर शुक्ला ने बताया कि सभी जोनल अधिकारियों को मजिस्ट्रेट की पावर दिए जायेंगे। उन्होंने बताया कि अब जिले में लगभग 13 लाख 9 हजार मतदाता है। जोनल अधिकारी ईव्हीएम मशीन के और अपनी लिस्ट के टोटल का मिलान सतर्कता से करें। चुनाव समाप्त होने के पश्चात फोटो परिचय पत्र और दीगर दस्तावेजों से वोट डालने वालों की पूरी जानकारी उपलब्ध करायें। दो-दो घंटे बाद मतदान के प्रतिशत से कंट्रोल रूम को अवगत कराते रहें। उन्होंने बताया कि प्रात: 7 से 9 बजे तक यदि किसी कारणवश किसी पोलिंग बूथ पर मतदान आरंभ नहीं होगा तो वहां अगली किसी तारीख में मतदान कराया जायेगा वहां पोलिंग उस दिन स्थगित कर दिया जायेगा। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अपने मोबाइल के प्रति सतर्क रहें। समय समय पर उनको एस.एम.एस. द्वारा भी निर्देश पारित किए जायेंगे। संवेदनशील पोलिंग बूथ को सभी अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में निरीक्षण करें और कानून व्यवस्था की पूरी जानकारी से 16 अप्रैल तक अवगत करायें। चुनाव के दिन एक वाहन में केवल पांच लोगों की अनुमति है। अनुमति पत्र गाड़ी पर लगाना अनिवार्य है।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री जयदीप प्रसाद ने कहा कि पुलिस अधिकारी जोनल अधिकारियों के साथ थाना स्तर पर बैठकें करें। उन्होंने कहा कि वायरलेस सेट का अनावश्यक उपयोग न करें अति महत्वपूर्ण जानकारी के लिए ही उसे उपयोग में लायें। थाना प्रभारी अपने अपने क्षेत्रों में असामाजिक तत्वों पर तेजी से कार्रवाई करें।
 
कमर अली शाह