Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
चुनाव आयोग के निर्देश

लोकसभा चुनाव के मतों की गणना के समय मतगणना कक्ष में मतगणना एजेन्टों के साथ-साथ चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों को भी बैठने का अधिकार हैं, भले ही वे वर्तमान सांसद अथवा विधायक क्यों न हो। लेकिन इसके लिये उन्हें अपने सशस्त्र सुरक्षाकर्मियों को मतगणना कक्ष में ले जाने की इजाजत नहीं होगी।
चुनाव आयोग ने निर्देश दिये हैं कि ऐसे उम्मीदवारों से यह घोषणा पत्र लिया जाए कि वे मतगणना कक्ष में जाने के लिये अपनी सुरक्षा व्यवस्था को स्वैच्छिक रूप से समर्पित कर रहे हैं।
बहरहाल, एसपीजी अथवा उसके समकक्ष सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों पर यह आदेश लागू नहीं होगा। उन्हें मतगणना कक्ष में सादे कपड़ों में एक एसपीजी सुरक्षाकर्मी अपने साथ रखने की इजाजत होगी।

दिनेश मालवीय#प्रलय श्रीवास्तव