| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
 

मध्यप्रदेश में लोकसभा निर्वाचन के सुचारू संचालन के लिए तैयार किये गये कम्युनिकेशन प्लान को अत्याधिक महत्व दिया जा रहा है। मतदान के दौरान सभी संसदीय क्षेत्रों से पल-पल की सूचना इस कम्युनिकेशन प्लान के जरिए भारत निर्वाचन आयोग और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को मिलेगी। इस प्लान के तहत जिला निर्वाचन अधिकारी से लेकर चुनाव डयूटी में लगे निचले स्तर के कर्मचारियों को शामिल किया गया है।

भोपाल स्थित मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में कम्युनिकेशन प्लान का मॉक ट्रायल राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री जे.एस. माथुर के निर्देशन में सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। मॉक ट्रायल में लगे अधिकारियों को हिदायत दी गई कि चुनाव में कम्युनिकेशन प्लान को बेहतर और पुख्ता तरीके से संचालित किया जाना है। चुनाव आयोग ने भी कम्युनिकेशन प्लान पर अधिकाधिक जोर दिया है। मॉक ट्रायल में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय की कम्युनिकेशन टीम के 28 सदस्यों ने हिस्सा लिया। उन्होंने 50 जिलों की जिला स्तरीय कम्युनिकेशन टीम, सहायक रिटर्निंग आफीसर स्तरीय कम्युनिकेशन टीम एवं मतदान स्तरीय कम्युनिकेशन टीम के सदस्यों से सम्पर्क कर इसका पूर्वाभ्यास किया।

उल्लेखनीय है कि कम्युनिकेशन प्लान के जरिए वल्बेनिरेबल पॉकिट जिनमें ग्राम, मजरे, टोले, पारे और मौहल्लो आदि शामिल हैं, पर विशेष नजर रखी जायेगी। इसी के साथ ही क्रिटिकल मतदान केन्द्र भी इस प्लान के जरिए सीधे सम्पर्क में रहेंगे। राज्य प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारियों को भी इस कार्य से जोड़ा गया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में कम्युनिकेशन प्लान के संचालन के लिए विशेष कक्ष भी स्थापित किया जा रहा है। प्लान में एक तालिका तैयार की गयी है कि मतदान कार्य में संलग्न कौन कर्मचारी#अधिकारी किससे बात करेगा।

 

कमर अली शाह#महेश दुबे