| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
 

लोकसभा निर्वाचन 2009 के लिए भोपाल संसदीय क्षेत्र में होने वाले चुनाव से संबंधित राजनैतिक दलों की स्टेंडिंग कमेटी की बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर श्री शिव शेखर शुक्ला ने बताया कि मतदान दिवस के 48 घंटे पूर्व शराब की बिक्री, आम सभायें, लाउड स्पीकर का उपयोग, रैलियों और बल्क एस.एम.एस. पर प्रतिबंध रहेगा। मतदान के दौरान किसी भी अभ्यर्थी द्वारा मतदाताओं को लाने-ले जाने वाले वाहन जप्त किए जायेंगे। मतदान के दिन प्रात: 6:30 बजे सभी मतदान केन्द्रों पर मॉक पोल किया जायेगा। इस अवसर पर अभ्यार्थी या मतदान अभिकर्ता प्रात: 6:15 पर उपस्थित रहें। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थियों की संख्या 23 होने से अब सभी मतदान केन्द्रों पर दो बैलेट यूनिट का उपयोग किया जायेगा।

श्री शुक्ला ने चुनाव लड़ने वाले अभ्यार्थियों से कहा कि वे अपना व्यय लेखा नियमित रूप से प्रस्तुत करें। राजनैतिक दलों द्वारा टी.वी.माध्यम से अपना चुनाव प्रचार करने के लिए मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के अभ्यार्थियों को कलेक्टर कार्यालय से तीन दिवस पूर्व और अन्य अभ्यार्थियों को सात दिवस पूर्व आवेदन देकर निर्धारित प्रारूप में मय तीन सी.डी.में प्रस्तुत कर अनुमति प्राप्त करना होगी। उन्होंने बताया कि 299 मतदान केन्द्रों पर माइक्रो आर्ब्जवर नियुक्त होंगे जो मतदान प्रक्रिया की वीडियो रिकार्डिंग करायेंगे। यदि कहीं कोई मशीन खराब हो जाती है और उसके स्थान पर नई मशीन उपयोग में लाई जायेगी तो उसमें भी पहले माक पोल की प्रक्रिया अपनाई जायेगी। चुनाव के दिन 100 मीटर के दायरे में मोबाइल के उपयोग पर प्रतिबंध रहेगा।

जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शुक्ला ने बताया कि दृष्टिहीन मतदाताओं के लिए 1078 मतदान केन्द्रों पर ब्रेल लिपि द्वारा मतदान करने की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। इस प्रक्रिया को आज दृष्टिहीन लोगों ने ब्रेल लिपि में अपना मतदान पत्र पढ़कर मशीन पर लगे ब्रेल स्टिकर द्वारा मतदान करने का प्रशिक्षण लिया। इस अवसर पर निर्वाचन के लिए भोपाल आये चारों पर्यवेक्षक, जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी और राजनैतिक दलों के अभ्यार्थी और प्रतिनिधि उपस्थित थे।