Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts
चुनाव आयोग ने राज्य सरकार से सतर्क रहने को कहा

चुनाव आचार संहिता लागू रहने के दौरान एक विद्युत कंपनी द्वारा मुख्यमंत्री के फोटो वाले बिजली बिल वितरित किये जाने के संबंध में अखबारों में छपी खबर का संज्ञान लेकर भारत निर्वाचन आयोग द्वारा इसकी जाँच करवाई गयी। चुनाव आयोग ने इस संबंध में म.प्र. शासन के ऊर्जा विभाग से वस्तुस्थिति स्पष्ट करने को कहा था। विभाग ने आयोग को बताया कि एक विद्युत वितरण कंपनी द्वारा मुख्यमंत्री के फोटो वाले बिजली बिल चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले जारी किये गये थे और 2 मार्च, 2009 को संहिता लागू होने के बाद भी वे जारी होते रहे। आयोग ने पूरे मामले पर विचार कर कहा है कि चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद मुख्यमंत्री के फोटो वाले बिजली बिल जारी होने से रोकने का दायित्व राज्य सरकार का है। इस प्रकार, संबंधित विभाग आदर्श आचार संहिता का पालन सुनिश्चित नहीं कर सका। लिहाजा, आयोग ने भविष्य में ऐसा न हो इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार को सतर्क रहने को कहा है।

दिनेश मालवीय