Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts
25,986 मतदान केन्द्र

मध्यप्रदेश में दूसरे चरण में 16 संसदीय क्षेत्रों के लिये आगामी 30 अप्रैल को होने वाले मतदान में 2 करोड़ 8 लाख 89 हजार 797 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। इनमें से 1 करोड़ 10 लाख 98 हजार 780 पुरूष और 97 लाख 91 हजार 017 महिलायें हैं। उल्लेखनीय हैं कि दूसरे चरण में कुल 231 उम्मीदवार चुनाव के मैदान में किस्मत आजमा रहें हैं।

उपरोक्त मतदाताओं में से 94.5 प्रतिशत को फोटोयुक्त मतदाता परिचय पत्र वितरित किये जा चुके हैं। दूसरे चरण के मतदान के लिये 25 हजार 986 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं। इनमें से 25,635 मुख्य तथा 353 सहायक मतदान केन्द्र हैं। इस मतदान के लिये 16 रिटर्निंग आफीसर और 128 सहायक रिटर्निंग आफिसर अधिसूचित किये गये हैं। निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव कराने के लिये 3 हजार 776 माइक्रो आब्जर्वर नियुक्त किये गये हैं।

निर्वाचन के दूसरे चरण में मतदान के लिये 37 हजार 222 इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का उपयोग किया जायेगा। इन मशीनों की जाँच और रेडमाइजेंशन का काम पूरा हो चुका है। मतदाताओं की सुविधा के लिये हेल्पलाइन की व्यवस्था की गई हैं। मतदाताओं के प्रश्नों तथा जिज्ञासाओं का समाधान करने के लिये वेबसाईट, कॉलसेंटर और एसएमएस आधारित व्यवस्था 2 अप्रैल से ही लागू कर दी गई हैं। वेबसाईट में सर्च इंजन की सुविधा हैं जिसका मतदाता लाभ उठा सकते हैं। राज्य स्तरीय एजेंसी द्वारा सम्पूर्ण मध्यप्रदेश के लिये एसएमएस गेट वे पोलिंग साफ्टवेयर विकसित किया गया है। एसएमएस व्यवस्था के माध्यम से विधानसभा क्षेत्र, मतदान केन्द्रों, मतदाता सूची मे क्रमांक, मतदाता केन्द्र की स्थिति तथा पता आदि देने की व्यवस्था मतदाता के पहचान पत्र क्रमांक के आधार पर की गई हैं।

दिनेश मालवीय /प्रलय श्रीवास्तव