| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
पोलिंग बूथों पर हुई तैयारियां, आज पहुंचेंगे मतदान दल

मध्यप्रदेश में लोकसभा निर्वाचन के दूसरे चरण में 16 संसदीय क्षेत्रों में स्थापित 25 हजार 986 मतदान केन्द्रों पर 30 अप्रैल को वोट डाले जायेंगे। इनमें 25 हजार 633 मुख्य मतदान केन्द्र और 353 सहायक मतदान केन्द्र भी शामिल हैं। सभी मतदान केन्द्रों पर मतदान के लिये तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है। निर्धारित मतदान केन्द्रों पर मतदान दल एक दिन पूर्व 29 अप्रैल को पहुंचेंगे। दुर्गम स्थलों पर जिला निर्वाचन अधिकारी की अनुमति से मतदान दल एक दिन पूर्व पहुंच चुके हैं।

द्वितीय चरण के मतदान केन्द्र

क्र.

संसदीय क्षेत्र

मतदान केन्द्र

1.

मुरैना

1529

2.

भिण्ड

1659

3.

ग्वालियर

1651

4.

गुना

1620

5.

सागर

1515

6.

टीकमगढ़

1461

7.

दमोह

1708

8.

राजगढ़

1739

9.

देवास

1762

10.

उज्जैन

1583

11.

मंदसौर

1720

12.

रतलाम

1531

13.

धार

1384

14.

इंदौर

1834

15.

खरगौन

1541

16.

खण्डवा

1749

कुल मतदान केन्द्र

25,986

द्वितीय चरण के मतदान के लिये सबसे अधिक 1834 मतदान केन्द्र इन्दौर संसदीय क्षेत्र में तथा सबसे कम 1384 धार संसदीय क्षेत्र में हैं। इसके अलावा मुरैना संसदीय क्षेत्र में 1529, भिण्ड में 1659, ग्वालियर में 1651, गुना में 1620, सागर में 1515, टीकमगढ़ में 1461, दमोह में 1708, राजगढ़ में 1739, देवास में 1762, उज्जैन में 1583, मंदसौर में 1720, रतलाम में 1531, खरगौन में 1541 और खण्डवा संसदीय क्षेत्र में 1749 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं।

संसदीय क्षेत्रों में मुख्य मतदान केन्द्रों के अलावा सहायक मतदान केन्द्र भी स्थापित किये गये हैं। इनमें मुरैना संसदीय क्षेत्र में 10, ग्वालियर में 113, गुना में 6, सागर में 11, दमोह में 9, राजगढ़ में 3, देवास में 11, उज्जैन में 46, मंदसौर में 7, रतलाम में 11, धार में 7, इंदौर में 101, खरगौन में 15 और खण्डवा संसदीय क्षेत्र में 3 सहायक मतदान केन्द्र बनाये गये हैं।

भिण्ड, खण्डवा और मंदसौर संसदीय क्षेत्र के मेहगांव, बुरहानपुर और सुवासरा विधानसभा क्षेत्र ऐसे हैं जहां सबसे अधिक 261-261 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं। धार संसदीय क्षेत्र का गंधवानी विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम 142 मतदान केन्द्र हैं।

दिनेश मालवीय /प्रलय श्रीवास्तव