Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
''जन्मदिन'' वगैरह के नाम पर पार्टियां भी नहीं

आगामी लोकसभा चुनाव में राजनैतिक दलों तथा उम्मीदवारों द्वारा धनबल के बेजा इस्तेमाल पर कड़ाई से रोक लगाई जायेगी।


आयोग की जानकारी में यह बात आयी है कि उम्मीदवार चुनाव प्रक्रिया के दौरान वोट प्राप्त करने के लिए मतदाताओं को अनेक प्रकार के प्रलोभन देते हैं। इनमें नगद पैसा देने के अलावा शराब, खाने के पैकेट, ''जन्मदिन' तथा'' शादी की सालगिरह' आदि के नाम पर लंच और डिनर पार्टी देना, सामूहिक विवाहों में तोहफे देना आदि शामिल हैं।


चुनाव प्रक्रिया के दौरान इस तरह के भुगतान तथा प्रलोभन दिये जाने पर प्रत्येक थाना अधिकारी अपने स्तर पर कड़ी निगरानी रखेगा। मैदानी चुनाव अधिकारी और पुलिस प्रशासन को भी निर्देश दिये गये हैं कि वे इस तरह के कृत्यों को रोकने के लिए एकजुट होकर काम करें। जहाँ भी इस तरह की घटना हो, वहाँ वीडियो कव्हरेज कराया जाए, ताकि पर्याप्त दस्तावेजी प्रमाण प्राप्त हो सके।


आयोग के ध्यान में यह बात भी आयी है कि जिन राज्यों में चुनाव होते हैं, वहां दूरस्थ राज्यों से भी शराब का परिवहन किया जाता है। लिहाजा, अंतरर्राज्यीय सीमा तथा वाणिज्यिक कर चौकियों पर खास नजर रखी जाए। इस तरह का कंसाइनमेन्ट पकड़े जाने पर समुचित विवेचना की जाकर यह पता लगाया जाए कि यह शराब कहां से आयी है।

दिनेश मालवीय#प्रलय श्रीवास्तव