Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts
चार नवंबर को तय होगी तारीखें निकाला जाएगा ड्रॉ

चुनाव आयोग ने आठ पंजीकृत मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों को दूरदर्शन और आकाशवाणी के जरिए प्रदेश में चुनाव प्रचार का मौका मुहैया कराया है। इन सबके लिए प्रचार का बाकायदा समय भी तय किया गया है। चार नवंबर को अपरान्ह इन दोनों प्रचार माध्यमों के अफसरों और उपरोक्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एक बैठक कर प्रचार की तारीखें और प्रसारण समय के व्हाऊचर्स का निर्धारण करेंगे तथा इसके लिए ड्रॉ निकाला जाएगा।
इस बैठक में आठ राजनैतिक दलों के लिए दूरदर्शन और आकाशवाणी पर प्रचार को लेकर चुनाव आयोग द्वारा अलग-अलग आवंटित कुल समय के मुताबिक इनमें से प्रत्येक के लिए टाईम व्हाऊचर्स और प्रचार की तिथियों का निर्धारण किया जाएगा। यह प्रसारण सहूलियत आल इंडिया रेडियो और दूरदर्शन के क्षेत्रीय केन्द्रों के जरिए जुटाई जा रही है। राष्ट्रीय और राज्य के राजनैतिक दलों को विधानसभा चुनाव के सिलसिले में इस माध्यम से प्रचार के लिए समकक्ष माना गया है। दोनों प्रसारणों से प्रचार की शुरूआत नामांकन दाखिल करने के अंतिम दिन से होगी और मतदान की तिथि के 48 घंटे पूर्व के लिए तक रहेगी।
तयशुदा कार्यक्रम के तहत चुनाव आयोग ने मध्यप्रदेश में बहुजन समाज पार्टी को आकाशवाणी और दूरदर्शन पर प्रसारण के लिए कुल 70-70 मिनट, भारतीय जनता पार्टी को दोनों में से प्रत्येक माध्यम से प्रसारण के लिए 230 मिनट, कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया और कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सवादी) को प्रत्येक के लिए 45 मिनट, इंडियन नेशनल काँग्रेस को प्रत्येक के लिए 180 मिनट, नेशनल कांग्रेस पार्टी और राष्ट्रीय जनता दल को प्रत्येक के लिए 45 मिनट तथा समाज वादी पार्टी को दोनों में से प्रत्येक माध्यम से प्रसारण के लिए 60 मिनट का कुल समय आवंटित किया है। दोनों प्रसारणों से आवंटित समय के प्रत्येक पाँच मिनट के प्रसारण के हिसाब से कुल 144-144 व्हाऊचर्स जारी किए जाएंगे।

 
योगेश शर्मा