| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
29 दिसंबर तक बटेंगे ईपिक
         बूथ स्तरीय एजेंट्स भी तस्दीक करेंगे
अंतिम प्रकाशन 10 फरवरी को

भारत निर्वाचन आयोग ने फोटो मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कराने का फैसला किया है। यह पुनरीक्षण 1 जनवरी 2009 को आधार तिथि मानकर किया जाएगा। इसी तरह आयोग ने उसके द्वारा जारी शेष रहे फोटो मतदाता परिचय पत्रों का वितरण करने की तारीख 29 दिसंबर 2008 तय की है। इस बार मतदाता सूचियों में संशोधनों की तस्दीक के काम में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के बूथ स्तरीय एजेंट (बीएलए) भी शरीक रहेंगे। मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 10 फरवरी 2009 को होगा।
आयोग ने फोटो मतदाता सूचियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के सिलसिले में तारीखवार कार्यक्रम तय कर दिया है। इसके मुताबिक पदाधिकारियों, पर्यवेक्षकों और बूथ स्तरीय अफसरों के स्टॉफ के चयन तथा तैनाती की तारीख 24 दिसंबर तय की है। इनका प्रशिक्षण 29 दिसंबर को होगा और इसी तारीख को मतदान केन्द्रों समेत समग्र जानकारी और कंट्रोल टेबल्स को अद्यतन किया जाएगा। मतदाता सूचियों के एकीकरण और निरंतर पुनरीक्षण की पूरक सूची की तैयारी 31 दिसंबर तक की जाएगी। इसी तारीख में एकीकृत सूचियों के प्रारूप प्रकाशन के लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय की वेबसाइट पर जानकारी तैयार होगी।
तयशुदा कार्यक्रम के मुताबिक 5 जनवरी को मतदाता सूचियों के प्रारूप का प्रकाशन होगा। इस सिलसिले में दावे और आपत्तियाँ 5 जनवरी से 20 जनवरी तक जमा किए जाएंगे। इसी तरह 5 जनवरी से 30 जनवरी तक शेष रहे और नए मतदाताओं के फोटोग्राफ लिए जाएंगे। ग्रामसभा और स्थानीय निकायों की बैठकों में फोटो मतदाता सूचियों के संबंधित हिस्से को पढ़ने और नामों के सत्यापन की कार्रवाई 10 जनवरी और 11 जनवरी को की जाएगी।
इसी क्रम में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के बूथ स्तरीय एजेंटों के साथ दावे और आपत्तियाँ प्राप्त करने का विशेष अभियान 17 और 18 जनवरी को चलाया जाएगा। दावे और आपत्तियों का निराकरण 30 जनवरी को होगा। जानकारियों और कंट्रोल टेबल्स को अद्यतन करने, फोटो के मिलान तथा पूरक सूची की तैयारी तथा मुद्रण का काम 10 जनवरी से 5 फरवरी तक होगा। इसके बाद मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 10 फरवरी को कर दिया जाएगा।

योगेश शर्मा