| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
किसी और का कार्ड कब्जें में न रखें ऐपिक वितरण 25 नवंबर को प्रात: 10 बजे के बाद नहीं
किसी दूसरे का ऐपिक कब्जे में होने पर गिरफ्तारी आयोग का फैसला

भारत निर्वाचन आयोग ने मतदाताओं को यह सलाह दी है कि उसके द्वारा उन्हें जारी किए गए मतदाता फोटो परिचय पत्रों (ऐपिक) को वे सिर्फ अपने पास संभाल कर रखें और यह सतर्कता बरतें कि वह किसी गलत हाथ में न पड़ जाए। सलाह यह भी दी गई है कि कोई भी किसी दूसरे मतदाता का ऐपिक अपने कब्जे में न रखे। ऐपिक वितरण से जुड़े सरकारी अमले को यह ताकीद की गई है कि यदि किसी मतदाता को उन्हें ऐपिक प्रदाय करना है तो उसे 25 नवंबर की प्रात: 10 बजे तक प्रदाय कर दें। उन्हें यह भी सुनिश्चित करना है कि ऐपिक संबंधित व्यक्ति को ही सुपुर्द किया जाए और किसी भी हालत में इसे किसी अन्य को न दें। इस तयशुदा तारीख को सुबह 10 बजे तक यदि ऐपिक उपयुक्त व्यक्ति को सुपुर्द नहीं किया जा सके तो तत्काल संबंधित कर्मचारी इसे जिला निर्वाचन अधिकारी के पास जमा कराएंगे और वे इसे अपने पास हरगिज नहीं रखेंगे। यदि वे ऐसा नहीं करते हैं तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मतदाताओं से भी कहा गया है कि वे अपने पास सिर्फ अपना ही मतदाता फोटो परिचय पत्र (ऐपिक) रखें, किसी दूसरे का ऐपिक अपने कब्जे में न रखें। आयोग ने साफ किया है कि वे कोई भी व्यक्ति भले ही आम हों अथवा सरकारी कर्मचारी यदि किसी दूसरे का ऐपिक उनके कब्जे में रखना पाया जाता है तो उनके इस कृत्य को निर्वाचन अपराध मानकर उन्हें हिरासत में ले लिया जाएगा।

 

 

 

योगेश शर्मा