| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
 
भोपाल : 12 दिसम्बर, 2013
 

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री जयदीप गोविन्द की अध्यक्षता में गुरूवार को यहाँ विभिन्न मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों की बैठक हुई। श्री गोविन्द ने हाल ही में सम्पन्न विधानसभा निर्वाचन प्रकिया के सुव्यवस्थित और निर्बाध संचालन में सहयोग करने पर राजनैतिक दलों के प्रति आभार व्यक्त किया। राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों ने भी इस अवसर पर निष्पक्ष निर्वाचन कार्य संचालन के लिये भारत निर्वाचन आयोग, राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी और जिला निर्वाचन अधिकारियों के प्रति कृतज्ञता प्रकट की।

बैठक मे बताया गया कि राज्य भर में 16 दिसम्बर 2013 को फोटो निर्वाचक नामावली-2014 के प्रारूप का प्रकाशन किया जायेगा। निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारी मतदाताओं से प्राप्त फार्म 6, 7 और 8 की सूची को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की वेबसाईट पर लोड करेंगे। वे दावे और आपत्ति की सूची भी राजनैतिक दलों को देंगे ताकि ये दल उस संबंध में अपना पक्ष रख सकें। रजिस्ट्रीकरण अधिकारी विभिन्न मतदान कंेन्दों के क्षेत्रों में नई बसाहटों/कालोनियों के पते सही ढंग से दर्ज करेंगे, जिससे उनकी प्रविष्टि मतदाता फोटों परिचय पत्र मंे दर्ज की जा सके। वोटर कार्ड में नाम, पते आदि में कोई त्रुटि न रहें इस ओर भी विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये गये। बैठक में यह भी जानकारी दी गई की मतदाता सूचियों के कार्य से जुड़े अधिकारियों, कर्मचारियों और बूथ लेविल अधिकारियों के स्थानांतर 16 दिसम्बर 2013 से 21 जनवरी 2014 तक प्रतिबंधित रहेंगे।

किसी जायज कारणवश मतदाता सूचियों से हटाये गये नामों में से दो प्रतिशत नामों का सत्यापन उप जिला निर्वाचन अधिकारी, एक प्रतिशत नामों का सत्यापन जिला निर्वाचन अधिकारी और आधा प्रतिशत नामों का सत्यापन संभागीय कमिश्नर द्वारा किया जायेगा, जिससे सूचियाँ त्रुटिरहित बन सकें। मृत मतदाताओं को छोड़कर शेष जिन मतदाताओं के नाम सूची से हटेगें उनको इसकी सूचना और सुनवाई का अवसर दिया जायेगा। मतदाता सूची से हटाये जाने वाले नामों की पुष्टि रजिस्ट्रीकरण अधिकारी करेंगे। संभागीय कमिश्नरों को इस कार्य के लिये रोल प्रेक्षक बनाया गया है।

बैठक में बताया गया कि दिनांक एक जनवरी 2014 को जो लोग 18 वर्ष के हो जायेगें उनके नाम भी मतदाता सूचियों में जोड़े जायेंगे। राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों से अपेक्षा की गई है कि वे अपने दल के बूथ लेविल एजेंट को इसकी जानकारी दें ताकि वे ऐसे नये मतदाताओं के फार्म प्राप्त कर सकें। उन्हें बताया गया कि अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन 21 जनवरी 2014 को किया जायेगा। इस बीच प्राप्त होने वाले दावे और आपत्तियों पर सुनवाई कर रजिस्ट्रीकरण अधिकारी उनका निराकरण करेंगे। राजनैतिक दलों से अपेक्षा की गई है कि वे बूथ लेविल एजेंट की नियुक्तियाँ शीघ्र करें, जिससे वे बीएलओ के साथ मिलकर कार्य कर सकें।

बैठक में अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्ही.एल. कान्ताराव, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री एस.एस. बसंल, इंडियन नेशनल कांगे्रस, भाजपा, बसपा, सी.पी.आई, सी.पी.आई (एम) और एन.सी.पी. के पदाधिकारी उपस्थित

 मुकेश मोदी 
पिछला पृष्ठ