| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
 

सागर जिले के देवरी विकास खंड के ग्राम सिंगपुर की तस्वीर प्रधानमंत्री सड़क योजना से बदली। पहले गाँव तक पहुँचने में कीचड़,मिट्टी और गड्डों की वजह से बेहद कठिनाई आती थी। इसी वजह से गाँव की तरक्की के रास्ते रूके हुए थे। यहाँ अब मध्यप्रदेश सरकार ने बारहमासी पक्की सड़क बना दी है। बीना तिगड्डे से सिंगपुर तक बनी इस सड़क से ग्रामीण बेहद खुश है। सड़क ने लोगों के जीवन में नई उमंग भर दी है। शहर और गाँव की दूरी कम होने से यहाँ के लोगों की आर्थिक तरक्की तो हुई ही है। साथ ही सामाजिक वातावरण भी बदला है। गाँव में जमीन की कीमत तीन-चार गुना बढ़ गई है। गाँव के अनुसूचित जाति के लोग कहते हैं 'जीप-बसों'' में छुआछूत नहीं होती, सभी जाति के लोग साथ बैठकर जाते हैं।

कुल 9.3 किलोमीटर लम्बाई की इस सड़क पर अपने वाहन दौड़ाते हुए लोग खुश नजर आते है। गाँव के निवासी अनिल मिश्रा ने बताया कि मैं पहले सिंगपुर जाने के लिये देवरी से सुबह 9 बजे निकला और किसी तरह गिरते-पड़ते शाम को 7 बजे सिंगपुर पहुँच पाया था। कोई उन दिनों को याद करने लगा जब वह अपने रिश्तेदार को समनापुर से देवरी लाने के लिये खटियां पर लादकर लाया था तो कोई पेपर के दिन ही पानी गिर जाने से परीक्षा के लिये समय पर नहीं पहुँच पाया। सभी की जुबान पर कड़वे अनुभव थे। बुजुर्ग सरपंच के शब्दों में पहले देवरी पहुँचने में 4 से 6 घंटे लग जाते थे और शाम हो गई तो वहीं रूकना पड़ता था। आज स्थिति बदली हुई है। अब लोग केवल 20 मिनिट में आसानी से देवरी पहुँच जाते हैं।

अब सरकारी योजनाएँ भी सफलता से चल रही है। शासकीय योजनाओं की जानकारी का लाभ भी ग्रामीणों को ज्यादा से ज्यादा मिल रहा है। प्याज उत्पादक किसान खुश हैं, उनके उत्पाद अब गाँव से ही व्यापारी ले जाते हैं और दाम भी अच्छे मिल रहे हैं।

सड़क बनने से केवल सिंगपुर गाँव ही नहीं बल्कि आस-पास के 6 से 7 गाँव भी लाभान्वित हुए हैं

वीरेन्द्र सिंह गौर