| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube
 

सीधी जिले के जुरौली टोला गाँव में शहर जैसी सड़क और उसके साथ नाली भी बन जाने से गाँववासी खुश भी हैं और हैरान भी। गाँव में यह अनहोनी सी बात मनरेगा की आंतरिक पथ निर्माण उपयोजना और पंच-परमेश्वर योजना के समन्वय से हुई है।

गाँव के रामचन्द्र सिंह के अनुसार पहले सड़क नहीं होने से बरसात के दिनों में वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी दूभर था। बीमार व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल ले जाने में भी भारी परेशानी होती थी। अब पक्की सड़क बन जाने से इलाज के लिए जननी एक्सप्रेस भी रात-दिन ग्राम के घर तक पहुँच रही है। सड़क तो बनी ही साथ ही गाँव वालों को काम के बदले मजदूरी भी मिली। पक्की सड़क और नाली बन जाने से साफ-सफाई भी रहती है।

जिले में स्वीकृत कुल 560 पक्की सड़क एवं नाली निर्माण कार्यों में 101.09 मीटर सड़क का निर्माण करवाया जा रहा है। इनमें 516 कार्य शुरू कर 347 को पूरा किया जा चुका है। निर्मित 165 मीटर पक्की सड़क पर कुल लागत 4 लाख 12 हजार रुपये आयी है।

आनन्द मोहन गुप्ता