| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

सभ्यता को बचाने का अभियान है नर्मदा सेवा यात्रा - योगी आदित्यनाथ
नर्मदा को पहले जैसी अविरल बनाना है लक्ष्य - मुख्यमंत्री

डिण्डौरी, मध्यप्रदेश में नर्मदा नदी के संरक्षण के लिए चलाई जा रही नर्मदा सेवा यात्रा मानव के साथ सभ्यता बचाने का अभियान है। नर्मदा सेवा यात्रा की पूरी दुनिया में चर्चा है। यह यात्रा अब वैश्विक हो गई है। यह बात उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने डिण्डौरी जिले के शहपुरा में ‘नमामि देवि नर्मदे-नर्मदा सेवा यात्रा’ के दौरान जनसंवाद करते हुए कही। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नर्मदा नदी मध्यप्रदेश की जीवन रेखा है। मध्यप्रदेश को बचाने के लिए हर हाल में नर्मदा को पहले जैसी अविरल प्रवाहित करना होगा।

श्री आदित्यनाथ ने कहा कि यह शिवराज जी का कुशल नेतृत्व ही है, जिसके चलते इतनी भीषण गर्मी में भी हजारों नर-नारी यात्रा में सम्मिलित हुए हैं। उन्होंने कहा कि शिवराज जी स्वयं लगभग 50 जगह यात्रा में सम्मलित हुए हैं, इससे पता चलता है कि वे कितने संवेदनशील हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2 जुलाई को लाखों लोगों द्वारा करोड़ों पेड़ लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस अद्भुत वृक्षारोपण के लिए 12 करोड़ पौधे तैयार कराये जा रहे हैं। इस दिन 2144 किलोमीटर क्षेत्र में वृक्षारोपण होगा।

  • नर्मदा सेवा यात्रा से प्रेरित होकर उत्तरप्रदेश में चलाई जायेगी ‘नमामि गंगे योजना’।
  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डिंडौरी जिले में नशाबंदी के लिए महिलाओं द्वारा बनाये गए ‘ब्लू गैंग’ की सराहना की।