| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 

स्वदेशी चंद्रयान-2 अभियान शुरू करने की योजना बना रहा इसरो

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन चंद्रयान-2 अभियान शुरू करने की योजना बना चुका है। अगले कैलेंडर वर्ष की पहली तिमाही में यह अभियान शुरू होगा। थ् इसरो अपने प्रक्षेपणों की संख्या सालाना बढ़ाकर 12 करने की तैयारी में है। इसरो संगठन अधिक से अधिक उपग्रहों के निर्माण और अंतरिक्ष तक पहुंचने का लक्ष्य पूरा करने की तैयारी में है। चंद्रयान-2 पूर्णतः स्वदेशी अभियान है, इसमें रूस की कोई भागीद ारी नहीं है। इसरो के अध्यक्ष ए.एस. किरण कुमार ने कहा कि स्वदेशी चन्द्रयान-2 के लिये आवश्यक सभी वैरिएबल थ्रस्ट इंजन, लैंडर, रोवर जैसे काम किए जा रहे हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि मंगल अभियान, शुक्र अभियान या एस्टेरॉयडस अभियान पर भी काम करने की योजनाओं को मूर्त रूप दिया जा रहा है। किरण कुमार ने यह भी बताया कि पहले हर साल दो तीन प्रक्षेपण करते थे, उसके बाद यह संख्या बढ़कर 4 से 5 हो गयी, लेकिन हाल ही के दिनों में इसकी प्रक्षेपण संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। साथ ही उन्होंने कहा कि अब योजना के तहत प्रतिवर्ष यह संख्या 8-9 पीएसएलवी, दो जीएसएलवी- एम के 2 और एक जीएसएलवी-एम के 3 तक बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं।