| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन- 2017
विकास के लिये जरूरी है महिला सशक्तिकरण
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने उद्यमियों को भारत में आने और निवेश के लिए दिया न्यौता

देश में स्टार्ट अप को बढ़ावा देने के इरादे से 28 से 30 नवंबर 2017 तक वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन (जीईएस) का आयोजन किया गया। इसमें अमेरिकी  राष्ट्रपति ट्रंप की वरिष्ठ सलाहकार के तौर पर इवांका ट्रंप ने शिरकत की। यह जीईएस की पहली ऐसी बैठक है, जिसमें प्रतिभागी महिलाओं का बहुमत 52.5 प्रतिशत रहा। इसमें अफगानिस्तान, सऊदी अरब और इज़रायल सहित कुल 10 देश थे, जिनका केवल महिला प्रतिनिधियों ने ही प्रतिनिधित्व किया।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और इवांका ट्रंप ने वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन - 2017 का हैदराबाद में उद्घाटन किया। सम्मेलन के उद्घाटन के अवसर पर देश के विकास के लिये महिला सशक्तिकरण को बेहद जरूरी बताया गया। इस मौके पर विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज, रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमन और तेलंगाना के मुख्यमंत्री श्री के. चंद्रशेखर राव भी मौजूद थे।
   यह सम्मेलन भारत और अमेरिका की सह मेजबानी में किया गया।
   इस सम्मेलन में 127 देशों के 1,200 से ज्यादा युवा उद्यमियों ने हिस्सा लिया।
   300 निवेशक और परिस्थितिक तंत्र के समर्थकों ने हिस्सा लिया।
      इवांका ट्रंप के साथ आये प्रतिनिधिमंडल में 38 राज्यों के 350 लोग शामिल हैं।
इस सम्मेलन की थीमसर्वप्रथम महिला, सबकी खुशहाली
(वुमेन फर्स्ट, प्रोस्पेरिटी फॉर ऑल)

प्रधानमंत्री ने सम्मेलन की थीम महिलाओं पर केंद्रित रखने की सराहना की, उन्होंने कहा कि भारतीय पौराणिक कथाओं में नारी को शक्ति का रूप माना गया है।
‘‘रोबोट मित्र ने किया स्वागत
वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन (जीईएस) में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और इवांका ट्रंप का स्वागत एक रोबोट  ‘मित्र’ ने किया। इस रोबोट को बेंगलुरु में बालाजी विश्वनाथन और 14 सदस्यों की टीम ने मिलकर तैयार किया है। इवांका ने रोबोट ‘मित्र’ का बटन दबाकर सम्मेलन का शुभारंभ किया।

प्रधानमंत्री की उपलब्धियां
असाधारण - इवांका

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उपलब्धियों को असाधारण बताया है। उन्होंने वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन (जीईएस) के उद्घाटन के मौके पर कहा कि श्री मोदी के नेतृत्व में उद्यमिता को बढ़ावा देकर भारत ने 13 करोड़ लोगों को गरीबी से उबारा है।
उन्होंने प्रधानमंत्री की उपलब्धियों को असाधारण बताते हुए कहा कि मानवता की प्रगति महिला सशक्तिकरण के बिना अधूरी है।
सम्मेलन की प्रमुख बातें

जीईएस की यह आठवीं बैठक थी। अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस सम्मेलन के सफल आयोजन पर संतुष्टि जताई।
इस सम्मेलन में प्रमुख चार केन्द्रीय विषयों पर बातचीत हुई।
स्वास्थ्य सेवा और चिकित्सा विज्ञान
डिजिटल अर्थव्यवस्था और वित्तीय प्रौद्योगिकी।
ऊर्जा एवं बुनियादी ढ़ांचा,
मीडिया एवं मनोरंजन प्रमुख रहे।