| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
कोर क्षेत्र की विकास दर घटकर 0.4 फीसदी
 

नई दिल्ली, देश के बुनियादी ढाँचा सेक्टर की विकास दर जून महीने में 19 महीने के न्यूनतम स्तर पर आ गई। सीमेंट, बिजली और कोयले के उत्पादन में कमी के साथ ही कुल 8 क्षेत्रों की विकास दर जून में घटकर 0.4 फीसदी रह गई। कोर क्षेत्र की विकास दर मई में 4.1 फीसदी थी, जबकि पिछले साल जून में इसमें 7 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी। कोर क्षेत्र में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, फर्टिलाइजर, स्टील, सीमेंट और बिजली शामिल हैं। इन क्षेत्रों का औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में भी 40.27 फीसदी का अधिभार है। जानकारों की मानें तो पिछले साल के ऊँचे बेस की वजह से भी इस साल जून में विकास दर कमजोर रही। कोर क्षेत्र की कमजोर विकास का औद्योगिक विकास दर पर भी बुरा असर पड़ेगा। औद्योगिक विकास के आंकड़े 11 अगस्त को जारी होंगे।