| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
पक्के मकान में होगा मुस्कान का पुस्तकालय
मुख्यमंत्री ने मुस्कान को किया सम्मानित

भोपाल, पाँचवीं कक्षा में पढ़ने वाली मुस्कान अहिरवार का अपना पक्का पुस्तकालय होगा। अभी वो राजधानी की दुर्गानगर बस्ती में कच्चे मकान में पुस्तकालय चलाती हैं। बच्चों की शिक्षाप्रद 25 किताबों से उनका पुस्तकालय 2016 में शुरू हुआ था। अब 1000 से ज्यादा किताबों से सज्जित हो गया है।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास पर मुस्कान अहिरवार का सम्मान किया और उन्हें दो लाख रुपये की सहायता राशि प्रदान की। साथ ही यह भी कहा कि जल्दी ही एक कमरे का पक्का पुस्तकालय बन जायेगा। मुख्यमंत्री के इस भावनात्मक उपहार से अभिभूत मुस्कान कहती हैं कि अब उन्हें और बस्ती के बच्चों को पढ़ने और आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता। मुस्कान बताती हैं कि अभी रोज शाम पाँच से सात बजे तक पुस्तकालय लगता है। करीब बीस पच्चीस बच्चे आते हैं। चटाई और दरी पर बैठना पड़ता है। कुछ बच्चे किताबें घर ले जाते हैं। फिर वापस कर देते हैं। मैं किताब के बारे में कुछ सवाल पूछ लेती हूँ, जिससे यह पता चल जाता है कि बच्चे ने किताब पढ़ ली है। एक रजिस्टर है जिसमें सारा हिसाब रहता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुस्कान जैसी बेटियों के काम को पूरा समाज आगे बढ़ाये तो स्थितियाँ बदलते देर नहीं लगेगी। सरकार की ओर से हर प्रकार की सहायता दी जायेगी।