| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 

इंदौर में एयर कॉर्गो की स्थापना के लिये विशेष पहल हो - राजेन्द्र शुक्ल
मध्यप्रदेश देश में तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था वाले राज्यों में शामिल

नई दिल्ली, मध्यप्रदेश देश में तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था वाले राज्यों में से एक है। प्रदेश के इंदौर में बड़ी मात्रा में गैर कृषि उत्पाद, फार्मास्युटिकल, ऑटो कम्पोनेंट, केमिकल्स और वस्त्रों का निर्यात किया जाता है। इसलिए इंदौर में एयर कॉर्गो की स्थापना की पहल की जानी चाहिये। यह बात उद्योग एवं रोजगार मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने नई दिल्ली में ट्रेड प्रमोशन एण्ड डेवलपमेंट काउंसिल की बैठक को सम्बोधित करते हुए कही।

  • मध्यप्रदेश में स्थापित किए गए हैं पांच कंटेनर डिपो।
  • इंदौर में शिक्षा समूह सिम्बायोसिस ने की कौशल विश्वविद्यालय की स्थापना।
  • मध्यप्रदेश ने वर्ष 2015 में किया 4.1 बिलियन डॉलर का निर्यात।

उद्योग मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि वर्ल्ड बैंक की ईज ऑफ डूइंग बिजनेस स्टडी 2016 की रैंकिंग में मध्यप्रदेश को 5वाँ स्थान दिया गया है। एक निजी क्रेडिट रेटिंग संस्था एम्बिट केपिटल के प्रतिवेदन में देश के 15 बड़े राज्यों में से पिछले 3 वर्षों से मध्यप्रदेश सर्वश्रेष्ठ परफार्मिंग राज्य रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार और राज्यों के सकल घरेलू उत्पाद के आँकड़े बताते हैं कि मध्यप्रदेश विकास के पथ पर अग्रणी राज्य है। राज्य की औसत विकास दर पिछले 2 वर्षों में 10 प्रतिशत से अधिक रही है। मध्यप्रदेश राज्य के सकल घरेलू उत्पाद के वर्ष 2015-16 के अग्रिम अनुमान के अनुसार विनिर्माण क्षेत्र में 8.86 प्रतिशत वृद्धि अनुमानित है। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष के त्वरित अनुमान में यह वृद्धि 5.73 प्रतिशत थी। प्रदेश ने कृषि क्षेत्र में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुये लगभग 20 प्रतिशत की विकास दर हासिल की है।

उद्योग मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि राज्य में उद्योगों के विकास के लिये उद्योग संवर्धन नीति-2014 लागू की गयी है। इसके अलावा रक्षा क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने के लिये रक्षा संयंत्र उत्पादन निवेश नीति और खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों के लिये विशेष वित्तीय सुविधाएँ स्वीकृत की गयी हैं। उद्योग मंत्री ने कहा कि निवेशकों को शासकीय औद्योगिक भूमि सरलता से मिल सके, इसके लिये मध्यप्रदेश राज्य औद्योगिक भूमि एवं भवन प्रबंधन नियम-2015 लागू किया गया है। उद्योग मंत्री ने कहा कि कौशल विकास के क्षेत्र में अनेक सकारात्मक कदम उठाये गये हैं। प्रदेश में सीआईआई के सहयोग से कौशल संवर्धन केंद्र भी स्थापित किये गये हैं।