| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
सीएम हेल्पलाइन ने रामेश्वर की गलती बतायी
 

शाहनगर जिला पन्ना के रामेश्वर सिंह ने सीएम हेल्पलाइन से संपर्क कर बताया कि वे शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बगवार कला संकुल केंद्र, बगवार के छात्र हैं। वर्तमान में वे कक्षा 12वीं में अध्ययनरत हैं और उन्हें शासन से प्राप्त छात्रवृत्ति का लाभ नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने अधिकारियों से छात्रवृत्ति राशि प्राप्त कराने में मदद करने की गुहार लगायी। सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों ने रामेश्वर के विद्यालय के प्राचार्य से संपर्क कर प्रकरण की विस्तृत जानकारी माँगी।

प्राचार्य ने सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों को बताया कि रामेश्वर ने छात्रवृत्ति प्राप्त करने के लिए कभी भी आवेदन नहीं किया था। ऐसे में उसको छात्रवृत्ति राशि किस आधार पर मिलेगी। तब सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों ने प्राचार्य के साथ रामेश्वर का आमना-सामना करवाया। रामेश्वर  की शिकायत निराधार और झूठी निकली, तब रामेश्वर से सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों ने लिखित में उसकी गलती मानने की बात लिखवाई और झूठी शिकायत करने के लिए कड़ी फटकार भी लगाई। साथ ही भविष्य में ऐसी गलती न दोहराने की हिदायत भी दी।

सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों ने शिकायत को बंद करने का निर्देश दिया, जिसके आधार पर शिकायत को खारिज कर दिया गया।

क्या करें - इसके लिए टोल फ्री नंबर 181 पर कॉल करें। कॉल करने पर संबंधित शिकायतकर्ता से नाम और वर्तमान पता पूछा जाएगा। आप सही नाम और सही पता दर्ज करवाएं। हर शिकायत दर्ज करने पर एक यूनिक नंबर जनरेट होता है। आप यह नंबर नोट कर लें। हेल्पलाइन से आपकी शिकायत को संबंधित अधिकारियों के पास ऑनलाइन और फिर फोन द्वारा सूचित किया जाता है।

आप भी हेल्पलाइन पर प्राप्त यूनिक नंबर से अपनी शिकायत की यथास्थिति जान सकते हैं। अगर आपकी समस्या का समाधान प्रथम स्तर पर नहीं हो पाता है, तब इसे लेवल टू यानी जिले के प्रमुख के पास भेजा जाता है। इसके बाद संभाग स्तर पर और फिर शासन के स्तर पर समस्या का निदान किया जाता है।  समस्या के निपटारे के बाद संबंधित शिकायतकर्ता को क्लोजर कॉल द्वारा सूचित किया जाता है। सही मायने में यह आपकी समस्या के समाधान के लिए बनी हेल्पलाइन है। बस आपको 181 नम्बर डायल करना है।

आप भी चाहें तो अपनी समस्या का समाधान सीएम हेल्पलाइन के जरिये कर सकते हैं।