| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
प्रदेश के प्रमुख शहरों में स्वाइन फ्लू परीक्षण के लिये खुलेंगी नई लैब
सरपंच, ग्राम सभा में ग्रामीणों को करेंगे स्वाइन फ्लू के प्रति जागरूक

भोपाल, मध्यप्रदेश में स्वाइन फ्लू की जाँच के लिये सभी प्रमुख शहरों में लैब खोली जायेंगी। इन लैबों के खुलने से स्वाइन फ्लू की जाँच में विलंब नहीं होगा। अभी यह लैब सिर्फ एम्स भोपाल, ग्वालियर और जबलपुर में ही हैं। यह बात लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रुस्तम सिंह ने भोपाल में स्वाइन फ्लू और डेंगू नियंत्रण की समीक्षा करते हुए कही।

मंत्री श्री सिंह ने कलेक्टरों से कहा है कि सभी सरपंच आज से ही ग्राम सभा में स्वाइन फ्लू के इलाज और बचाव की जानकारी देना शुरू करें। श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश में 56 हजार आशा कार्यकर्ता हैं। इनके माध्यम से घर-घर में स्वाइन फ्लू, डेंगू और चिकनगुनिया आदि बीमारियों के लक्षण और रोकथाम के उपाय, इलाज आदि के पोस्टर बँटवायें। आशा कार्यकर्ता पोस्टर के माध्यम से ग्रामीणों को समझाईश देंगी।

श्री रुस्तम सिंह ने कहा कि चिकित्सकों की मुख्य भूमिका व्यक्ति के अस्वस्थ होने के बाद शुरू होती है। स्वाइन फ्लू के इलाज में देरी, घातक सिद्ध हो सकती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जनपद पंचायत, आशा एवं उषा कार्यकर्ता जन-जन को जागरूक करें और प्रभावित होने पर अस्पताल पहुँचाएँ।