Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

 
प्रदेश की सभी मुख्य सड़कें आवागमन के लिए हों बेहतर - मुख्यमंत्री
प्रदेश में एक वर्ष में हुआ तीन हजार 799 किलोमीटर सड़कों का निर्माण

भोपाल, मध्यप्रदेश की सभी मुख्य सड़कें और जिला मार्ग आवागमन के लिये बेहतर स्थिति में रहें। इसके लिये सड़कों के मेंटेनेंस का कार्य प्राथमिकता से किया जाये। प्रदेश में बीते एक वर्ष में तीन हजार 799 किलोमीटर सड़कों का निर्माण किया गया है। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में लोक निर्माण विभाग की समीक्षा करते हुए कही।

  • प्रदेश में बीते एक वर्ष में तीन हजार 700 किलोमीटर लंबी सड़कों का हुआ नवीनीकरण।
  • प्रदेश में बीते एक वर्ष में 85 पुलों का हुआ निर्माण।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बैठक में कहा कि सड़क निर्माण के लिये संसाधन जुटाने की योजना बनाएँ। आदिवासी बाहुल्य जिलों में सड़कों के निर्माण के लिये जिला माइनिंग फण्ड की राशि का उपयोग किया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में कम लम्बाई की छोटी सड़कों के निर्माण में ग्रामीण विकास विभाग के तहत उपलब्ध राशि का उपयोग किया जाए। सड़कों के सुधार के लिये आवश्यक राशि उपलब्ध कराई जाएगी।

बैठक में बताया गया कि योजना के तहत 1440 करोड़ रुपये की लागत से 900 किलोमीटर मुख्य जिला मार्ग बनाये गये हैं। एडीबी के चतुर्थ चरण में दो हजार 61 करोड़ रुपये की लागत से 1365 किलोमीटर तक की सड़कें बनाई गई हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में विभाग द्वारा 23 हजार 395 किलोमीटर लम्बाई के ग्रामीण मार्गों को संधारित किया जा रहा है। राष्ट्रीय राजमार्गों के 2 हजार 611 किलोमीटर में क्षतिग्रस्त मार्ग का मजबूतीकरण किया जा रहा है।