| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
पौध रोपण कर भावी पीढ़ी को दें जीवन का उपहार
 

भोपाल, नागरिक पितृपक्ष में पूर्वजों की स्मृति में छायादार या फलदार वृक्षों का रोपण करें। इससे उनकी स्मृति चिर-स्थायी होगी, हरियाली बढ़ने से पर्यावरण संतुलन समृद्ध होगा और आने वाली पीढ़ी को जीवनदायी सौगात मिलेगी। यह बात पर्यावरण नियोजन एवं समन्वय संगठन (एप्को) के कार्यपालन संचालक श्री अनुपम राजन ने एप्को परिसर में शासकीय विद्यालयों के विज्ञान शिक्षकों के लिये जलवायु परिवर्तन विषय पर आयोजित शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। कार्यक्रम में प्रत्येक जिले से 20-20 विज्ञान शिक्षक भाग ले रहे हैं।

श्री राजन ने कहा कि जलवायु परिर्वतन के दुष्परिणाम बड़ी तेजी से सामने आ रहे हैं। पर्यावरण संतुलन देश-प्रदेश की ही नहीं, अपितु पूरे विश्व की ज्वलंत समस्या बन रहा है। एप्को ने पर्यावरण के प्रति घर-घर और जन-जन को जागरूक करने का निश्चय किया है। इसके लिए शिक्षकों की मदद ली जा रही है। सभी 51 जिलों के लगभग एक हजार शिक्षकों को प्रशिक्षित कर उनके माध्यम से एक लाख से अधिक छात्र-छात्राओं को जलवायु परिवर्तन और उससे होने वाली हानि और बचाव के उपायों के प्रति संवेदनशील बनाया जायेगा। ये विद्यार्थी अपने परिवारों को भी जागरूक करेंगे। बच्चों में यह संस्कार विकसित होने पर भविष्य में जलवायु परिवर्तन की भयावहता को नियंत्रित करने में काफी मदद मिलेगी। दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत भोपाल संभाग के जिला भोपाल, सीहोर और रायसेन जिले के शिक्षकों के साथ हुई। विषय-विशेषज्ञों के साथ हुए तकनीकी सत्र और प्रस्तुतिकरण के दौरान शिक्षकों ने स्थानीय समस्यायें और सुझाव भी रखे।