| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
रामप्यारी बाई को मिली वृद्धावस्था पेंशन राशि
 

शमशाबाद, जिला विदिशा की रामप्यारी बाई ने समाधान ऑनलाइन से संपर्क कर बताया कि वे 70 वर्ष की हैं और गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन कर रही हैं। उनको पिछले एक वर्ष से वृद्धावस्था पेंशन नहीं मिल रही है, जिससे उन्हें आर्थिक कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है।

समाधान ऑनलाइन के अधिकारियों ने उनकी दयनीय स्थिति को ध्यान में रखते हुए सबसे पहले सामाजिक न्याय, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से रामप्यारी बाई को पेंशन नहीं मिल पाने का कारण जानने की कवायद शुरू की।

इस सिलसिले में उन्होंने सबसे पहले संबंधित क्षेत्र के लोकसेवा केन्द्र अधिकारी की मदद ली, तब पता चला कि रामप्यारी बाई को वृद्धावस्था पेंशन तो लगातार दी जा रही है। ऐसे में समाधान ऑनलाइन के अधिकारियों ने जिस खाते में यह पेंशन नियमित जा रही थी, उसकी पड़ताल की तो पता चला कि रामप्यारी बाई के आवेदन पत्र में दिए गए खाते में न जाकर यह पेंशन राशि मिलते-जुलते खाता क्रमांक में (किसी और के) जमा हो रही थी।

अधिकारियों ने इसके बाद ग्राम रोज़गार सहायक शमशाबाद की मदद ली और दूसरे (मिलते-जुलते नंबर वाले) खाते में पिछले एक साल से जमा हो रही वृद्धावस्था पेंशन की राशि रामप्यारी बाई के खाते में जमा करवाई और मिलते-जुलते नंबर वाले बैंक खाते को फ्रीज करवाया।

वृद्धावस्था पेंशन की राशि रामप्यारी बाई के खाते में जमा होने की जानकारी भी समाधान ऑनलाइन के अधिकारियों ने स्वयं दूरभाष पर आवेदिका को दी। दो माह बाद रामप्यारी बाई ने समाधान ऑनलाइन से संपर्क कर पेंशन नियमित प्राप्त होने के लिए धन्यवाद दिया।

कैसे लें मदद

अगर आप भी समाधान ऑनलाइन की मदद लेना चाहते हैं तो http://samadhan.mp.gov.in पर ऑनलाइन अपनी समस्या लिख भेजें। ऑनलाइन अधिकारी आप से स्वयं संपर्क कर लेंगे।