Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

 
रिज़र्व बैंक ने एनपीए समाधान की दूसरी सूची भेजी
 

मुंबई, बैंकों के फंसे बड़े कर्ज की दूसरी सूची समाधान के लिए बैंकों को भेजी गई है। रिज़र्व बैंक के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि दिवाला एवं ऋण शोधन अक्षमता कानून ने खेल के नियम बदल दिए हैं और बैंकों को अपने फंसे कर्ज की समस्या का समाधान करने के लिए इसका उपयोग करना चाहिए। रिज़र्व बैंक ने अब बैंकों से कहा है कि वह दिसंबर 2017 तक कुछ और खातों का समाधान करे। बैंक इनके लिए यदि तय समयसीमा में कोई व्यावहारिक योजना लाने में असफल रहते हैं तो इन मामलों को भी समाधान के लिए दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता आईबीसी के तहत संदर्भित कर दिया जाएगा।