Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

उत्तर कोरिया ने किया हाइड्रोजन बम परीक्षण

पश्चिमी देशों की चेतावनियों को दरकिनार करते हुए उत्तर कोरिया ने छठा परमाणु परीक्षण किया। लंबी दूरी के मिसाइलों में लोड किए जाने वाले शक्तिशाली हाइड्रोजन बम के जरिए यह परमाणु परीक्षण दुनिया भर के देशों के लिए चिंता का विषय बन गया है। भारत सहित अमेरिका, चीन, रूस और जापान जैसे देशों ने इस पर कड़ी नाराजगी जाहिर की है।

‘‘समाचार एजेंसी योन हाप के अनुसार हाइड्रोजन बम का परीक्षण सफलतापूर्वक किया गया।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो ने उत्तर कोरिया की हाइड्रोजन बम के सफल परीक्षण की घोषणा पर अंतर्राष्ट्रीय समुदाय द्वारा ‘बहुत ठोस’ प्रतिक्रिया का आव्हान किया और उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लगाने की मांग संयुक्त राष्ट्र से की है। अमेरिका ने कहा कि उत्तर कोरिया के खिलाफ कड़े कदम उठाए जाने चाहिए। वहीं भारत, जापान और दक्षिण कोरिया ने कड़ा विरोध जाहिर करते हुए उसे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से बाहर करने की बात कही है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने उत्तर कोरिया के इस कदम पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि इसे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से बाहर किया जाए।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने उत्तर कोरिया के इस कदम पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि यह अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं का उल्लंघन है और कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु मुक्त बनाने के उद्देश्य के खिलाफ है। हालांकि रूस ने सभी देशों से शान्ति बनाये रखने की अपील की है।

    उत्तर कोरिया की सरकारी मीडिया केसीएनए ने परमाणु बम परीक्षण के सफल होने की पुष्टि की है।

          न्यूूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक इस धमाके की ताकत पिछले या पाँचवें परीक्षण से 9.8 गुना ज्यादा थी।