| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
प्रदेश में महिलाओं के लिये सुरक्षित वातावरण बनाना सरकार की प्राथमिकता
 

भोपाल, मध्यप्रदेश में महिला सुरक्षा राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। प्रदेश में सुरक्षा का ऐसा वातावरण बनाया जाये, जिसमें महिलाएँ स्वतंत्र रूप से कहीं भी आ-जा सकें। महिलाओं के प्रति विकृत मानसिकता एक सामाजिक बुराई है। इसके विरुद्ध समाज, सरकार और पुलिस मिलकर जनजागृति अभियान चलाये। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में महिला अपराधों की रोकथाम के प्रयासों की समीक्षा करते हुए कही।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि महिला सुरक्षा सर्वोपरि है। प्रति सोमवार महिला अपराधों की उच्च स्तरीय समिति द्वारा समीक्षा की व्यवस्था की जाये। महिला सुरक्षा से संबंधित योजनाओं और रणनीति पर विचार कर सभी जरूरी कदम उठाये जायें। महिलाओं के लिए सेफ ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था हो। सार्वजनिक वाहनों में जीपीएस और कैमरे लगवाये जायें। महिलाओं के आवागमन की बहुतायत वाले संवेदनशील प्वाईंटों की पेट्रोलिंग और डॉयल 100 सेवाओं के उपयोग की प्रभावी रणनीति बने। आस-पास के क्षेत्रों में सी.सी.टी.व्ही. कैमरे लगवाये जायें, भरपूर प्रकाश की व्यवस्था हो ताकि महिलाओं और आम जनता का आत्मविश्वास मजबूत हो।

श्री चौहान ने दुराचारी मानसिकता की समस्या से निपटने के लिए विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श कर कार्य-योजना बनाकर संवेदनशीलता से कार्य करने की जरूरत बताई। गुड टच और बैड टच, दुराचार आदि की जानकारी विशेषज्ञों के माध्यम से बच्चों को दिए जाने की पहल की जाये।