| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
किसानों की आय दोगुनी करने के लिये चलाई गई हैं कई योजनाएँ
 

नई दिल्ली, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिये कृषि मंत्रालय लगातार काम कर रहा है। यह बात केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने नई दिल्ली में परामर्शदात्री समिति की बैठक में कही।

केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, परम्परागत कृषि विकास योजना, मृदा स्वास्थ्य स्कीम, नीम लेपित यूरिया और ई-राष्ट्रीय कृषि मंडी स्कीमें कुछ ऐसी प्रमुख स्कीमें हैं, जिनके द्वारा किसानों की आमदनी में सुधार लाने का लक्ष्य पूरा किया जा रहा है। केंद्रीय कृषि मंत्री ने बताया कि उद्यम विकास का मार्ग प्रशस्त करने के लिए आरकेवीवाई के दिशा-निर्देशों में परिवर्तन किया जा रहा है। कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग ने 2017-18 तक 24 मिलियन टन दलहन उत्पादन करने की कार्य योजना तैयार कर ली है।

किसानों की आय बढ़ाने के लिये सात सूत्रीय कार्य नीति

  • प्रति बूंद अधिक फसल का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए पर्याप्त बजट के साथ सिंचाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान केन्द्रित करना।
  • प्रत्येक खेत की मिट्टी के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए गुणवत्तायुक्त  बीजों और पोषक तत्वों को उपलब्ध कराना।
  • फसलोपरान्त नुकसान से बचने के लिए वेयरहाउसिंग और शीत भंडार गृहों का बड़े पैमाने पर निर्माण करना।
  • खाद्य प्रसंस्करण के जरिए मूल्यवर्धन को बढ़ावा देना।
  • राष्ट्रीय कृषि मंडी की स्थापना करने के साथ-साथ 585 मंडियों से अव्यवस्था समाप्त करके ई-प्लेटफार्म बनाना।
  • कृषि संबंधी जोखिम को कम करने के लिए उचित लागत वाली एक नई कृषि बीमा स्कीम शुरू करना।
  • मुर्गी पालन, मधुमक्खी पालन और मछली पालन जैसे सहायक कार्यकलापों को बढ़ावा देना।