Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

 
देश के सुदूर क्षेत्रों को मुख्यधारा से जोड़ने में सड़कों की भूमिका अहम
विदेशी निवेश को आकर्षित करने के लिये जरूरी हैं सड़कें

नई दिल्ली, देश के विकास, रोज़गार सृजन और विदेशी निवेश को आकर्षित करने तथा देश के सुदूर क्षेत्रों को अन्य हिस्सों से जोड़ने में सड़क संरचना की महत्वपूर्ण भूमिका है। हिमालय क्षेत्र में सड़कों की आधारभूत संरचना का विशेष महत्व है, क्योंकि सड़कें इस क्षेत्र में निवासियों के आवागमन तथा उनके विकास का एक मात्र साधन हैं। यह बात केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष भामरे ने नई दिल्ली में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) द्वारा आयोजित ‘हिमालय क्षेत्र में राजमार्ग के लिये सुरंग निर्माण की चुनौतियाँ’ सेमिनार के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कही।

डॉ. भामरे ने कहा कि हिमालय के ऊपरी क्षेत्रों में रोड नेटवर्क के निर्माण में बहुत सारी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। कई क्षेत्रों में एकमात्र उपाय सुरंग निर्माण ही रह जाता है। इसलिए हिमालय क्षेत्र में सड़क तथा रेल नेटवर्क के लिए सुरंग निर्माण का विशेष महत्व है, हालाँकि प्रारंभ में यह अत्यधिक खर्चीला लगता है।

डॉ. भामरे ने कहा कि सड़क तथा रेल मार्ग के लिए सुरंग निर्माण के क्षेत्र में देश तेजी से प्रगति कर रहा है। चेनानी-नासरी राजमार्ग सुरंग, बनिहाल-काजीकुंड रेल सुरंग तथा दिल्ली मेट्रो के लिए बनने वाली विभिन्न सुरंगें इसका उदाहरण हैं।