Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

अमेरिका के राष्ट्रपति का एशियाई दौरा
दक्षिण कोरिया में सैन्यबलों के कैंप का निरीक्षण किया, जापान और चीन भी पहुँचे

अमेरिका के राष्ट्रपति दो दिवसीय यात्रा पर दक्षिण कोरियाई प्रायाद्वीप पहुँचे। यहाँ उन्होंने अमेरिकी बलों का निरीक्षण किया और अमेरिकी बेस कैंप में पहुँच कर सैन्यबलों का उत्साहवर्धन किया। ट्रंप ने अमेरिका तथा दक्षिण कोरिया के सैन्य प्रमुखों से मुलाकात की। उनकी यह यात्रा परमाणु हथियार कार्यक्रम छोड़ने के लिए उत्तर कोरिया पर दबाव बनाने पर केंद्रित है।

ट्रंप ने उत्तर कोरिया के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए चीन, जापान, भारत से कहा है कि वे एक अभियान छेड़ें और उत्तर कोरिया पर दबाव बनायें ताकि वह परमाणु हथियार कार्यक्रम छोड़ने के लिए राजी हो सके। दक्षिण कोरिया पहुँचने के कुछ ही समय बाद ट्रंप हेलिकॉप्टर से कैंप हम्फ्रिम पहुँचे। दक्षिण कोरिया की राजधानी सिओल के दक्षिण में 40 मील दूर स्थित यह सैन्य अड्डा है। उनके साथ दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जाए इन भी थे।

गौरतलब है कि ट्रंप इन दिनों एशियाई यात्रा पर हैं, जिसमें वे पाँच देशों की यात्रा करेंगे। एशियाई दौरे के दूसरे पड़ाव में जापान पहुँचे ट्रंप ने कहा कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के साथ बैठक करने के लिए ‘निश्चित रूप से तैयार’ हो सकते हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि ऐसी वार्ता के लिए दोनों देशों के बीच संभावना कम ही है। जापान पहुँचते ही ट्रंप ने जापान के सम्राट का झुककर अभिवादन किया और सहज मुलाकात भी की।

इसी यात्रा के अगले पड़ाव में ट्रंप चीन पहुँचे। उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की और उत्तर कोरिया के साथ उसके आर्थिक रिश्ते खत्म करने की अपील की।