| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

‘शिक्षा बॉन्ड’ का

प्रिंस चार्ल्स ने भारत के लिये किया समर्थन

ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स ने भारत के लिये ‘‘शिक्षा बॉन्ड’’ का समर्थन करते हुए कहा कि भारत में वंचित तबके के बच्चों तक शिक्षा पहुँचाना आज की जरूरत है। भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आये ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करने के बाद ‘शिक्षा बॉन्ड’ के समर्थन की बात कही। एक करोड़ डॉलर (लगभग 65 करोड़ रुपये) के एजुकेशन डेव्हलपमेंट इम्पैक्ट बॉन्ड (डीआईबी) की स्थापना ब्रिटिश एशियन ट्रस्ट ने की है। इस ट्रस्ट की स्थापना प्रिंस ऑफ वेल्स ने दक्षिण एशिया में गरीबी से निपटने के लिए की थी। शिक्षा बॉन्ड की आवश्यकता पर बताते हुए प्रिंस चार्ल्स ने कहा कि इसका उद्देश्य भारत में वंचित तबकों के बच्चों के बीच शिक्षा के प्रचार प्रसार के अलावा, उन्हें आधुनिक शिक्षा में पारंगत करना भी है। यह बॉन्ड नवोन्मेष तथा सतत् सामाजिक प्रभाव में निवेश का जरिया है।