Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

चिकित्सक अपने ज्ञान का उपयोग कर मरीजों को बनायें निरोगी

भोपाल, चिकित्सक अपनी मेहनत और ज्ञान के उपयोग से मरीजों को निरोगी बनायें। दंत चिकित्सक की डिग्री लेने के बाद विद्यार्थियों की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ जाती है। यह बात उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री संजय पाठक ने भोपाल में ऋषिराज दंत चिकित्सा महाविद्यालय के छठवें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कही।

श्री पाठक ने पास-आउट दंत चिकित्सकों से आग्रह किया कि चिकित्सा सेवा के क्षेत्र में नया रास्ता खोजकर समाज को नई दिशा प्रदान करने में अग्रणी भूमिका निभायें।

श्री पाठक ने चिकित्सकों से कहा कि डिग्री लेने के बाद वे अनुभवी चिकित्सकों से मार्गदर्शन प्राप्त कर बेहतर भविष्य बना सकते हैं। चिकित्सक जिस शहर या ग्रामीण इलाके से वास्ता रखते हैं, उन्हें अपनी सेवाओं का अधिकतम उपयोग उस क्षेत्र में करना चाहिये। उन्होंने चिकित्सकों से कहा कि सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम विभाग मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में युवाओं को ऋण की सुविधा उपलब्ध करवाता है।