| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल के किये जायें पुख्ता इंतजाम
ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संकट से निपटने की करें तैयारी

रीवा, ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल के लिये पुख्ता इंतजाम किए जायें। ग्रीष्म काल में पानी का संकट उत्पन्न होने से पहले ही उससे निपटने की तैयारी की जाये। ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के द्वितीय चरण का सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। यह बात जल संसाधन एवं जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने रीवा में जिला योजना समिति की बैठक में कही।

डॉ. मिश्र ने कहा कि ग्रामोदय से भारत उदय अभियान में सामाजिक सौहार्द्र एवं समरसता को बढ़ाते हुए जीपीडीपी (ग्राम पंचायत विकास कार्यक्रम) की समीक्षा और आगामी दो वर्षों की कार्य-योजना बनाकर क्रियान्वयन किया जाना है। हितग्राहीमूलक विकास एवं जन-कल्याणकारी योजनाओं में पात्र हितग्राहियों को शामिल करने के लिये आवेदन प्राप्त कर परीक्षण करवायें और प्राथमिकता का क्रम भी तय करें। उन्होंने अभियान के दौरान जलाभिषेक अभियान की आगामी दो वर्षों की कार्य-योजना बनाकर क्रियान्वित करवाने और हरियाली महोत्सव में वृक्षारोपण की कार्य-योजना बनाकर कार्य किये जाने के निर्देश दिये। अभियान के दौरान कृषि, स्वास्थ्य एवं राजस्व विभाग के उद्देश्यों की निर्धारित समय-सीमा में पूर्ति पर जोर दिया।

प्रभारी मंत्री ने बंद नल-जल योजनाओं को प्रारंभ कराते हुए सूख गये हैण्ड-पम्पों के स्थान पर नवीन हैण्ड-पम्प खनन और जिन हैण्ड-पम्प में जल-स्तर नीचे चला गया है, उनमें राइजर पाइप बढ़ाने का कार्य तत्काल करने को कहा।