Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

आईएफएमआईएस सॉफ्टवेयर से प्रदेश की ट्रेजरी होंगी पेपरलैस

प्रदेश की ट्रेजरी नवीन सॉफ्टवेयर आईएफएमआईएस के अन्तर्गत आने के कारण पेपरलैस होने जा रही है। ट्रेजरी के पेपरलैस होने से अब आहरण एवं संवितरण अधिकारियों द्वारा कोषालय में देयक ऑनलाइन प्रस्तुत किये जायेंगे। देयक से संबंधित सभी आवश्यक प्रशासकीय स्वीकृतियाँ लॉगिन के माध्यम से ऑनलाइन ही भेजने की व्यवस्था रहेगी। नयी व्यवस्था में अब प्रत्येक कर्मचारी के एम्प्लाई कोड के माध्यम से लॉगिन द्वारा सेवा-पुस्तिका, सभी प्रकार के अवकाश की स्वीकृति, जीपीएफ, डीपीएफ अग्रिम आहरण किया जाना, शैक्षणिक योग्यता, जाति और अन्य व्यक्तिगत जानकारियाँ स्वयं के पासवर्ड के माध्यम से लॉगिन द्वारा आवेदित की जायेंगी। इस पर सक्षम अधिकारी द्वारा स्वीकृति भी लॉगिन पासवर्ड से ही प्रदान की जायेगी।

राज्य शासन द्वारा अधिकारी एवं कर्मचारी को 7वाँ वेतनमान शीघ्र भुगतान किया जाना है। इसके लिये वेतन निर्धारण की आवश्यकता होगी। कहा गया है कि समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों की सेवा-पुस्तिका ऑनलाइन आईएफएमआईएस के अन्तर्गत कार्यालय प्रमुख द्वारा अपलोड की जाये। यह जानकारी अनिवार्य रूप से 15 अप्रैल 2017 तक संभागीय संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा को भेजी जानी सुनिश्चित की जाये। इसके बाद ही वेतन निर्धारण की जानकारी संबंधित को ऑनलाइन ही भेजी जायेगी।

वित्त विभाग के अनुसार क्ष्क़ग्क्ष्च् की कार्य प्रक्रिया में आने वाली कठिनाई के लिये टाटा कन्सलटेंसी सर्विस के हेल्प डेस्क नं. 18001028244 पर सम्पर्क किया जा सकता है।