Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

आर्थिक, सांस्कृतिक और धार्मिक दृष्टि से परिपूर्ण है विंध्य

रीवा, विंध्य आध्यात्मिक, सांस्कृतिक और धार्मिक दृष्टि से परिपूर्ण है। हम अपनी संस्कृति और लोक कला को सहेजकर विंध्य को विश्व स्तर पर पहचान दिला सकते हैं। यह बात उद्योग, वाणिज्य और रोज़गार मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने रीवा में ‘विंध्य महोत्सव’ का शुभारंभ करते हुए कही।

श्री शुक्ल ने कहा कि प्रतिवर्ष महोत्सव में नई उपलब्धियाँ जुड़ जाती हैं। इस बार नवीन कलेक्ट्रेट भवन बनकर तैयार हुआ है, जो रीवा को पहचान दिलायेगा। उन्होंने कहा कि इससे लाखों लोगों की समस्याओं का समाधान किया जा सकेगा। उद्योग मंत्री ने कहा कि अगले महोत्सव में राजकपूर ट्रस्ट मेमोरियल और सौर ऊर्जा संयंत्र सहित कई उपलब्धियाँ जुड़ेंगी। उन्होंने महोत्सव का आयोजन किये जाने पर विंध्य पर्यटन समिति को बधाई दी। उद्योग मंत्री ने कहा कि महोत्सव के माध्यम से बाहर के कलाकारों के साथ स्थानीय कलाकारों को भी अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। मंत्री श्री शुक्ल ने महोत्सव के सफलतम आयोजन की कामना की।

महापौर श्रीमती ममता गुप्ता ने कहा कि विंध्य की लोककला, संस्कृति, खान-पान और बोली देश भर में प्रसिद्ध है। चित्रकूट से लेकर अमरकंटक तक विंध्य प्रदेश की धरा है।