Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

चायनीज ग्रांप्री
लुईस हेमिल्टन पाँचवीं बार बनें चैम्पियन

शंघाई, मर्सिडीज़ के ड्रायवर लुईस हेमिल्टन ने बेहद उतार-चढ़ाव से भरी चायनीज ग्रांप्री का खिताब अपने नाम किया है।

हेमिल्टन ने पोल पोजीशन का फायदा उठाते हुए करीबी प्रतिद्वंद्वी सबेस्टियन वेटल को हराया। यह हेमिल्टन का पाँचवां चायनीज ग्रांप्री खिताब है। लुईस हेमिल्टन वर्ष 2008, 2011, 2014 और 2015 में भी चैम्पियन रह चुके हैं।

इस सत्र की पहली रेस में जर्मन ड्रायवर वेटल ने हेमिल्टन को हराकर ऑस्ट्रेलियन ग्रांप्री जीती थीं। लेकिन इस बार हेमिल्टन ने वेटल को पछाड़ते हुए एक घंटे 37 मिनट और 36 सेकेण्ड के साथ पहले स्थान पर रहते हुए ट्रॉफी अपने नाम की। दूसरे स्थान पर रहे वेटल उनसे सिर्फ 6 सेकेण्ड पीछे रहे। तीसरे स्थान पर रेडबुल के मैक्स वेरस्टापेन रहे। चायनीज ग्रांप्री के बाद हैमिल्टन और वेटल के एक समान 43 अंक हो गए हैं और दोनों संयुक्त रूप से पहले स्थान पर हैं।

फोर्स इंडिया ने अर्जित किये 10 अंक

फोर्स इंडिया ने चायनीज ग्रांप्री में अच्छा प्रदर्शन करते हुए 10 अंक हासिल किए और पाँचवें स्थान पर रही। रेस में फोर्स इंडिया के सर्जियो पेरेज ने नौंवा स्थान हासिल किया जबकि उनके ही साथी एस्टेबान ओकोन को दसवाँ स्थान मिला।