| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

सीरिया हमले को लेकर रुस, सीरिया और ईरान ने अमेरिका को चेताया

रूस ने सीरिया में गत सप्ताह अमेरिका की ओर से किये गये मिसाइल हमले की निंदा की है। रूस ने चेतावनी देते हुए कहा कि अमेरिका ने अगर दोबारा ऐसा हमला किया तो इससे वैश्विक सुरक्षा के लिये खतरा उत्पन्न हो जायेगा। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने मास्को में सीरिया और ईरान के साथ सीरियाई गृहयुद्ध पर केंद्रित एक त्रिपक्षीय बैठक के दौरान कहा कि इस तरह के हमलों से न केवल क्षेत्रीय, बल्कि वैश्विक सुरक्षा के लिए भी गंभीर खतरा उत्पन्न हो जायेगा। उन्होंने कहा, हमने बार-बार अपनी स्थिति स्पष्ट की है और हम इस बात पर सहमत हैं कि यह हमला आक्रामक कृत्य है, जिससे अंतर्राष्ट्रीय कानून के सिद्धांतों और संयुक्त राष्ट्र चार्टर का उल्लंघन हुआ है। हम अमेरिका और उसके गठबंधन सहयोगियों को बताना चाहते हैं कि वे सीरिया की संप्रभुता का सम्मान करें और जो सात अप्रैल को हुआ था, अगर वैसा ही कुछ दोबारा हुआ तो यह न केवल व्हाइट हाउस में 12 अप्रैल को हुए संवाददाता सम्मेलन के दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति ने इस धमकी के मद्देनजर कहा कि अमेरिका-रूस के संबंध सीरियाई हमले को लेकर अब तक के सबसे बुरे दौर में हैं। उन्होंने नाटो के सचिव जनरल जेंस स्टोल्टनबर्ग से मुलाकात करते हुए कहा कि अमेरिका और रूस के बीच का तालमेल पटरी से उतर गया है। उन्होंने कहा कि यूरोपीय देशों को रूस या अन्य किन्हीं भी देशों से डरने की जरूरत नहीं है। अमेरिका जल्द ही सीरिया के बर्बर नागरिक युद्ध को खत्म करने, आतंकियों का सफाया करने और शरणार्थियों को उनके देश लौटाने की प्रक्रिया शुरू करेगा।