Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

अमेरिका-चीन के बीच बनी सौ दिन की कार्य योजना

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके समकक्ष चीन के शी जिनपिंग के बीच व्यापारिक समझौतों को 100 दिवस में पूर्ण करने के साथ ही दोनों देशों के बीच होने वाली बहुप्रतीक्षित शिखरवार्ता समाप्त हो गई। अमेरिकी राष्ट्रपति से फ्लोरिडा स्थित मार-ए-लागो रिसोर्ट में हुई इस दो दिवसीय वार्ता में शामिल ट्रंप के सहयोगियों ने वार्ता को सफल बताया है। वाणिज्य मंत्री विल्बुर रॉस ने कहा कि दोनों पक्ष बातचीत में तेजी लाने पर सहमत हुए हैं। जिससे व्यापार में चीन के पक्ष में बने झुकाव को दूर करने में मदद मिलेगी। गौरतलब है कि राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने चुनाव अभियान के दौरान चीन के हस्तक्षेप को स्वीकारा था और कहा था कि बातचीत के जरिए दोनों देश वाणिज्य व्यवसाय पर एकमत होकर काम करेंगे। 100 दिवसीय योजना को ट्रंप की नीति नजरिये के तौर पर देखा जा रहा है।वायु प्रदूषण से निपटने के लिये लंदन में प्रदूषण फैलाने वाली कारों पर भारी जुर्माना लगाने की घोषणा की है। इस घोषणा के साथ ही वायु प्रदूषण से निपटने के लिये लंदन अति निम्न कार्बन उत्सर्जन करने की घोषणा करने वाला दुनिया का पहला शहर बन गया है। पर्यावरणविदों के अनुसार लंदन में उठाये जा रहे इस कदम से कार्बन उत्सर्जन में 50 फीसदी कमी आने की उम्मीद है। इसके लिये ‘टाक्सिसिटी चार्ज’ इस साल अक्टूबर से लागू होगा जिसके तहत 2006 के पहले के डीजल और पेट्रोल वाहनों को पीक घंटों में सेंट्रल लंदन में प्रवेश के लिए 10 यूरो का अतिरिक्त चार्ज देना होगा। इस घोषणा के अनुसार अति निम्न कार्बन उत्सर्जन जोन वाले इलाकों में वाहनों को कार्बन उत्सर्जन के मानकों का पालन करना होता है, या फिर यात्रा के लिये चार्ज देना होता है। लंदन मेयर सादिक खान के अनुसार ज्यादा प्रदूषण फैलाने वाली कारों और मोटर बाइक को सेंट्रल लंदन से गुजरने के लिये 12.50 यूरो का चार्ज चुकाना होगा।