| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
फलों के बीज फेंकने के बजाय समितियों में जमा करवायें
 

भोपाल, राज्य जैव-विविधता बोर्ड ने प्रदेश के नागरिकों से मौसमी फलों और प्रदेश की जंगली प्रजाति के बीज उपयोग के बाद वन विभाग और जैव-विविधता बोर्ड के कार्यालय में जमा करवाने की अपील की है। बोर्ड ने आम, जामुन, कटहल, चीकू, मुनगा, बेर आदि के, और जंगली प्रजाति साल, साज, महुआ, भिलमा, बेल, तेंदू, नीम, लड़िया, पलाश आदि के बीज उपयोग के बाद एकत्रित एवं सुखाकर पास के वन विभाग, राज्य जैव-विविधता बोर्ड, वन-रक्षक, उप वन क्षेत्रपाल, वन क्षेत्रपाल, वन परिक्षेत्र, वन मण्डलाधिकारी कार्यालय या जैव-विविधता प्रबंधन समितियों में जमा करवाने का अनुरोध किया है।

12 स्थानों पर बनी सीड मड बॉल कार्यक्रम

राज्य जैव-विविधता बोर्ड ने भोपाल के नेशनल म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री, अरेरा कॉलोनी, सारस जैव-विविधता केन्द्र बिशनखेड़ी, कलियासोत डेम, बॉटनिकल गार्डन, कटारा हिल्स, स्वर्ण जयंती पार्क, बुल मदर फार्म कैरवा रोड, सेंट जेवियर स्कूल पिपलानी, न्यू कैम्पियन स्कूल बैरागढ़, धनवंतरी उद्यान हबीबगंज, प्रधान मण्डपम, प्रशासन अकादमी और जैव-विविधता लर्निंग सेंटर सूरज नगर में सीड बॉल निर्माण कार्यक्रम आयोजित किये।