| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
कान्हा और सतपुड़ा टाइगर रिज़र्व वन्य प्राणी प्रबंधन के लिये पुरस्कृत
 

भोपाल, मध्यप्रदेश के कान्हा और सतपुड़ा टाइगर रिज़र्व को नई दिल्ली में आयोजित तीसरी एशियन मिनिस्ट्रीयल कॉन्फ्रेंस में वन्यप्राणी प्रबंधन के लिये पुरस्कृत किया गया है। यह जानकारी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में सम्पन्न मध्यप्रदेश राज्य वन्य प्राणी बोर्ड की बैठक में दी गई। बैठक में प्रदेश के राष्ट्रीय उद्यानों एवं अभ्यारण्यों में विकास कार्यों की अनुमति के प्रस्तावों को भी मंजूरी दी गई।

बैठक में मध्यप्रदेश के संरक्षित क्षेत्रों के अंतर्गत स्थित ग्रामों के ग्रामीणों के अधिकारों के विनिश्चयन के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गयी। संरक्षित क्षेत्रों के ग्रामों के विस्थापन के बाद पुनर्वासित वन भूमि को राजस्व भूमि में परिवर्तित करने तथा संरक्षित क्षेत्रों से राजस्व ग्रामों के विस्थापन के बाद रिक्त राजस्व भूमि को वन भूमि में परिवर्तित करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गयी।

  • मध्यप्रदेश में पाँच नये वाइल्ड लाइफ रेस्क्यू स्क्वॉड का गठन किया गया।
  • मध्यप्रदेश में अब कुल 15 वाइल्ड लाइफ रेस्क्यू स्क्वॉड हो गए हैं।
  • फसलों को नुकसान पहुँचाने वाले जानवरों को संरक्षित क्षेत्र में छोड़ा जाये।

बैठक में रातापानी अभ्यारण्य में बरखेड़ा से बुधनी तक प्रस्तावित तीसरी रेल लाईन के निर्माण, सतपुड़ा टाईगर रिज़र्व की सीमा के भीतर सोनतलाई-बागरातवा आंशिक दोहरीकरण बड़ी रेल लाइन परियोजना के लिये वन भूमि अर्जन, सोन घड़ियाल अभ्यारण्य में रीवा-सीधी-सिंगरौली नई रेल लाइन में सोन नदी पर भितरी-कुर्वाह पुल निर्माण, संजय टाईगर रिज़र्व में कटनी-सिंगरौली रेलवे लाइन के दोहरीकरण और विद्युतीकरण की स्वीकृति दी गई।

इसी तरह, संजय टाईगर रिज़र्व में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क विकास योजना में चार पहुँच मार्गों के निर्माण, सोन चिड़िया अभ्यारण्य घाटी गाँव में ए.बी. रोड-बसोटा रोड से चराईडान मार्ग, सोन घड़ियाल अभ्यारण्य में बहर-कोरसर मार्ग में गोपद नदी पर उच्च-स्तरीय पुल और राष्ट्रीय चम्बल अभ्यारण्य में चंबल नदी पर सोने का गुरजा पर उच्च-स्तरीय पुल के निर्माण की स्वीकृति के प्रस्ताव का बैठक में अनुमोदन किया गया।