Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

 
जरूरतमंद की सेवा करना ही सबसे बड़ा धर्म - मुख्यमंत्री
सेवा के लिये सकारात्मक दृष्टि और संवेदनशील विचारधारा जरूरी - भैय्या जी जोशी

भोपाल, मनुष्य का सबसे बड़ा धर्म है जरूरतमंद की सेवा करना। जो लोग दूसरों की सेवा करते हैं, उनके अच्छे कार्यों का व्यापक प्रचार-प्रसार होना चाहिये। ये अच्छे कार्य लोगों को प्रोत्साहित करते हैं। इससे समाज में सकारात्मक वातावरण बनेगा। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल स्थित समन्वय भवन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सेवा प्रभाग की वेबसाइट ‘सेवा गाथा’ का लोकार्पण करते हुये कही। कार्यक्रम में संघ के सरकार्यवाह श्री सदाशिव सुरेश जोशी भैय्याजी ने कहा कि सेवा कार्य के लिये सकारात्मक दृष्टि और संवेदनशील विचारधारा की जरूरत होती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय चिंतन सारे विश्व को परिवार मानता है तथा एक ही चेतना सभी प्राणियों में देखता है। स्वयंसेवक संघ ऐसा ही विशाल हृदय वाला राष्ट्रवादी संगठन है। यह संगठन समाज के लिये जीने वाले नागरिकों का निर्माण करता है। सेवा के संकल्प में सर्वस्व अर्पित कर, समाज को रोशन करने का कार्य, इसके स्वयंसेवक करते हैं। उन्होंने मातृ छाया, आनंद धाम आदि सेवा कार्यों का उल्लेख करते हुए कहा कि वहाँ के रहवासियों का स्वावलंबी और समरस जीवन देख आत्मिक आनंद की प्राप्ति होती है। ऐसे कार्यों का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाना चाहिये। इससे नैराश्य का भाव दूर होता है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि वेबसाइट से समाज को अच्छे कार्यों की प्रेरणा और नई ऊर्जा मिलेगी।

संघ के सरकार्यवाह श्री सदाशिव सुरेश जोशी भैय्या जी ने कहा कि भारतीय जीवन-शैली में सेवा का संस्कार रचा-बसा है। यहाँ मानव सेवा ईश्वर की सेवा मानकर की जाती है। सेवा कार्य निश्चित धारणा के साथ नहीं हो सकता है। बंधु भाव के साथ जरूरतमंद की पीड़ा, वेदना और दुर्बलता को समझ, सेवा कार्य किया जाना चाहिये। इस भावना के साथ किये गये कार्यों के परिणाम सदैव अच्छे होते हैं। गलत सामाजिक मान्यताओं से पीड़ित, अस्थिर जीवन शैली और दूरस्थ अंचलों में रहने वालों का एक बड़ा वर्ग ऐसा है, जो अपने मौलिक सामाजिक अधिकारों से वंचित है। उनमें बेहतर जीवन का आत्म-विश्वास जगाने के लिये समाज को विचार करना होगा। उन्होंने आशा व्यक्त की कि वेबसाइट की गाथाएँ, सेवा कार्य के लिये लोगों को आगे आने के लिये प्रेरित करेंगी।