| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

 
रितिक को हुआ अपनी त्रुटि का अहसास
 

ब्लॉक गैरतगंज, जिला रायसेन के रितिक सिंह ने सीएम हेल्पलाइन से संपर्क कर बताया कि वे शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला, लवझिर संकुल केन्द्र, टेकापार में कक्षा दसवीं का छात्र है। उसे कक्षा 8वीं और 9वीं में प्राप्त होने वाली छात्रवृत्ति राशि अभी तक प्राप्त नहीं हुई है, जबकि वर्तमान सत्र- कक्षा दसवीं में उसे नियमित छात्रवृत्ति राशि का भुगतान हो रहा है।

रितिक ने सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों से कक्षा 8वीं और कक्षा 9वीं सत्र की छात्रवृत्ति राशि दिलवाने की गुहार लगाई। सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला, लवझिर संकुल केन्द्र के प्राचार्य से सपंर्क किया। अधिकारियों ने प्राचार्य को रितिक सिंह की समस्या विस्तार से बताई। प्राचार्य ने शाला के लेखा विभाग से संपर्क कर रितिक को 8वीं और 9वीं में छात्रवृत्ति राशि नहीं मिल पाने का कारण पूछा।

लेखा विभाग ने जाँच करने पर पाया कि छात्र रितिक ने 8वीं और 9वीं कक्षा में बार-बार कहने के बाद भी छात्रवृत्ति के लिए दिया जाने वाला आवेदन-पत्र ही जमा नहीं किया था, जिसके चलते उसका नाम छात्रवृत्ति पाने वाले छात्रों की सूची में शामिल नहीं हुआ। जबकि छात्र रितिक ने कक्षा दसवीं में छात्रवृत्ति आवेदन-पत्र मय दस्तावेज के निश्चित तिथि में जमा करा दिया था, जिससे उसे वर्तमान सत्र में छात्रवृत्ति राशि नियमित मिल रही थी।

तब सीएम हेल्पलाइन के अधिकारियों ने रितिक और उसके पिता को विद्यालय में बुलवाकर प्राचार्य द्वारा दी गई जानकारी से अवगत कराया। पिता और प्राचार्य के सामने रितिक ने वास्तविकता को स्वीकारा और अपनी गलती मानी, साथ ही उसने अधिकारियों से लिखित में माफी भी माँगी। इसके साथ ही उसने भविष्य में ऐसी भूल न करने की कसम भी खायी। छात्र की माफी के बाद सीएम हेल्पलाइन ने प्रकरण को बंद करने के निर्देश दे दिए।

आप भी चाहें तो अपनी समस्या का समाधान सीएम हेल्पलाइन के जरिये कर सकते हैं।