| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

22वीं एशियन एथलेटिक्स चैम्पियनशिप
चीन को पछाड़कर भारत बना चैम्पियन

भुवनेश्वर, भारत ने भुवनेश्वर में आयोजित 22वीं एशियन एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में खेलों के सुपर पावर कहे जाने वाले चीन को पछाड़कर पदक सूची में शीर्ष स्थान हासिल कर चैम्पियनशिप अपने नाम की। प्रतियोगिता में भारत आठ स्वर्ण, चार रजत और 11 काँस्य पदक के साथ शीर्ष पर रहा।

मनप्रीत ने दिलाया पहला स्वर्ण

प्रतियोगिता के पहले दिन भारत को पहला स्वर्ण पदक मनप्रीत कौर ने गोला फेंक में दिलाया। मनप्रीत ने 18.28 मीटर दूर गोला फेंककर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। लंबी दूरी के धावक श्री लक्ष्मण ने भारत को दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया। भारत के स्टार डिस्क थ्रोअर विकास गौड़ा ने काँस्य पदक अपने नाम किया। भारत ने पहले दिन दो स्वर्ण, दो रजत और तीन काँस्य पदक जीते।

भारत ने प्रतियोगिता के दूसरे दिन चार स्वर्ण, एक रजत और एक काँस्य पदक जीते। दूसरे दिन भारत के लिये 400 मीटर रेंज के महिला वर्ग में निर्मला श्योराण ने और पुरुष वर्ग में मोहम्मद अनस ने स्वर्ण पदक जीता। साथ ही 1500 मीटर दौड़ के महिला वर्ग में पीयू चित्रा और पुरुष वर्ग में अजय सरोज ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

सुधा ने 3000 मीटर स्टीपल चेज में जीता स्वर्ण पदक

सुधा सिंह ने प्रतियोगिता के तीसरे दिन भारत का स्वर्णिम सफर जारी रखते हुए महिलाओं की 3000 मीटर स्टीपल चेज स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता। सुधा ने नौ मिनट 59 सेकेंड में यह रेस पूरी की।

अर्चना ने छीना स्वर्ण पदक

प्रतियोगिता के चौथे व अंतिम दिन अर्चना जाधव ने महिलाओं की 800 मीटर रेस में स्वर्ण पदक जीत लिया था, लेकिन ज्यूरी ने उन्हें श्रीलंकाई धाविका को धक्का मारने का दोषी पाते हुए डिसक्वालिफाई कर दिया। इसके साथ ही उनका स्वर्ण पदक वापस ले लिया। इसी दिन हेप्टाथलन में स्वप्ना बर्मन ने स्वर्ण पदक दिलाकर भारत को शीर्ष पर पहुँचाया।