| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

साझा ‘मालाबार नौसैनिक युद्धाभ्यास’ किया

एशियाई क्षेत्र में चीन के दबदबे को कम करने के लिए भारत, अमेरिका और जापान ने हिंद महासगार में चेन्नई के समंदर से बंगाल की खाड़ी तक के इलाके में ‘साझा’ मालाबार नौसैनिक युद्धाभ्यास किया।  यह पाँच दिन तक चला। इसमें तीनों देशों की नौसेना के जंगी पोत और लड़ाकू विमानों ने हिस्सा लिया। अभ्यास समुद्र और तट दोनों जगह पर हुआ।
युद्धपोत जिन्होंने भाग लिया
युद्धाभ्यास में अमेरिका के सात युद्धपोत हैं, जिनमें एक विमान वाहक युद्धपोत यूएसएस निमिट्ज और एक पनडुब्बी शामिल है, जबकि जापान के दो युद्धपोत हैं। भारत के विमान वाहक युद्धपोत - विक्रमादित्य, दो शिवालिक क्लास के युद्धपोत, दो रणवीर, दो कामोर्टा, एक सिन्धुध्वज पनडुब्बी, पी 8 आई निगरानी हवाई जहाज इसमें शामिल हैं।
उल्लेखनीय है कि विश्वयुद्ध के बाद यानी कि 72 साल पहले जापान ने युद्ध ना लड़ने का फैसला किया था, लेकिन चीन के बढ़ते दबदबे से अब जापान ने भी अपना फैसला बदल कर अपनी सेना
चीन ने हिंद महासागर में लगातार अपनी ताकत बढ़ाई है।
चीन ने अपनी पनडुब्बियाँ भी तैनात कर दी हैं।
  सिक्किम में भारत और चीन की सेना के बीच गतिरोध कायम है।
को युद्धाभ्यास के लिए भारत भेजा है।सफल युद्धाभ्यास से दुनिया भर में भारत की सकारात्मक और सशक्त छवि सामने आयी है।