Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

जीएसटी के स्थायी पंजीकरण के लिए वित्त मंत्रालय कर रहा आगाह

राजस्व विभाग की ओर से एसएमएस या ई-मेल भेजा जाएगा।
   तकरीबन 607 लाख कारोबारी जीएसटी के तहत अस्थायी पंजीकरण करवा चुके हैं।
जीएसटी लागू होने के बाद से वित्त मंत्रालय अस्थायी पंजीकरण से स्थायी पंजीकरण कराने के लिए कारोबारियों को आगाह करने की तैयारी में है। 50 फीसदी से भी ज्यादा कारोबारियों को वित्त मंत्रालय अलर्ट करने की पूरी तैयारी कर रहा है, ताकि कारोबारी खुद जल्द से जल्द स्थायी पंजीकरण करा लें। वित्त मंत्रालय के अनुसार अभी तक 37 लाख कारोबारियों ने ही स्थायी पंजीकरण कराया है। दरअसल अस्थायी पंजीकरण के बाद अगर 90 दिन में स्थायी पंजीकरण नहीं कराया गया, तो व्यापारी के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है, इसलिए भी वित्त मंत्रालय कारोबारियों को समय रहते सूचित करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा भी ले रहा है।