| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | संपर्क करें | साईट मेप
You Tube

गोकुल महोत्सव

खेती के साथ पशुपालन से भी आय अर्जित करें किसान - अंतर सिंह आर्य

 

बड़वानी, मध्यप्रदेश में किसानों की आय दोगुनी करने के कई प्रयास किये जा रहे हैं। किसान अपनी आय में वृद्धि करने के लिये खेती के साथ-साथ पशुपालन भी करें। इसलिए प्रदेश में गोकुल महोत्सव आयोजित किया जा रहा है। यह बात पशुपालन एवं पर्यावरण मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य ने बड़वानी जिले के ग्राम पलसूद में गोकुल महोत्सव के द्वितीय चरण का शुभारंभ करते हुए कही।

पशुपालन मंत्री श्री आर्य ने कहा कि इस अभियान के तहत आगामी 9 मई तक पशुपालन विभाग की टीम हर गाँव में जाकर बकरी-मुर्गी-गाय-भैंस का निःशुल्क उपचार एवं टीकाकरण करेगी। श्री आर्य ने किसानों को अपने दुधारू पशुओं एवं मुर्गियों का टीकाकरण अवश्य करवाने को कहा।

श्री आर्य ने बताया कि सेंधवा में जहाँ 12 करोड़ की लागत से दुग्ध संयंत्र की स्थापना की जा रही है, वहीं कड़कनाथ मुर्गा पालन के लिये 9 करोड़ की लागत की विशेष कार्य-योजना बनाई गई है। इसी प्रकार आदिवासी बहुल क्षेत्रों में रेशम उद्योग को बढ़ावा देने के लिये धार में शीघ्र ही एक बड़ा सम्मेलन किया जायेगा।

राज्य स्तरीय गोपाल पुरस्कार

श्री आर्य ने गोपाल पुरस्कार योजना में प्रदेश में सर्वश्रेष्ठ पशुपालक रहे उज्जैन के श्री ईश्वरसिंह को 2 लाख, द्वितीय स्थान पर रहे नरसिंहपुर के श्री गोविंदसिंह पटेल को एक लाख तथा तृतीय स्थान पर रहे धार के श्री गोपाल पाटीदार को 50 हजार रुपये की राशि का चेक देकर सम्मानित किया। श्री आर्य ने 7 पशुपालकों को सांत्वना पुरस्कार बतौर 10-10 हजार रुपये के चेक भी वितरित किये। श्री आर्य ने जिला स्तरीय गोपाल पुरस्कार योजना में 50 हजार रुपये का प्रथम पुरस्कार श्री चुन्नीलाल धनगर को, 25 हजार रुपये का द्वितीय पुरस्कार श्री तोताराम धनगर को तथा 15 हजार का तृतीय पुरस्कार श्री महेन्द्र महादेव को वितरित किया।