Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

 
धोखाधड़ी से बैंकों को 17,000 करोड़ रु. का नुकसान
 

नई दिल्ली, वित्त वर्ष 2016-17 में देश के बैंकों को धोखाधड़ी के चलते 16,789 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित जवाब में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बैंकों को धोखाधड़ी से बचाने के लिए एक समिति का गठन किया गया है। इसमें आरबीआई के अधिकारी, अकादमिक जगत, फॉरेंसिक विशेषज्ञ, साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ और सूचना तकनीक से जुड़े लोगों को शामिल किया गया है। यह समिति बैंकिंग सेक्टर के समक्ष उपजी तकनीकी समस्याओं और उससे जुड़े खतरों से निपटने के लिए नीति-निर्धारण के काम में जुटी है। एक अन्य सवाल के जवाब में शुक्ला ने कहा, ‘बैंकों में लूट, चोरी, डकैती और ठगी की घटनाएँ 2016-17 में देश के कई भागों में घटित हुई हैं। ऐसी घटनाओं में बैंकों को 65.3 करोड़ रुपए की चपत लगी है।’ मौजूदा वित्त वर्ष 2017-18 में बैंकों में 393 घटनाएँ हुई हैं, जिनमें 14.48 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। शुक्ला ने कहा कि आरबीआई की ओर से बैंकों को लगातार यह सलाह दी जाती रही है कि वे अपनी शाखाओं और एटीएम बूथों की सुरक्षा को पुख्ता करें।