Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

 
नौ लाख से अधिक महिलाओं को मिला जननी सुरक्षा योजना का लाभ
 

भोपाल, मध्यप्रदेश में वर्ष 2017-18 में फरवरी तक जननी सुरक्षा योजना का लाभ नौ लाख 15 हजार महिलाओं को मिला है। इस अवधि में 167 करोड़ 57 लाख की राशि व्यय की गई। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रुस्तम सिंह ने बताया कि संस्थागत प्रसव से प्रदेश में मातृ-शिशु मृत्यु दर में कमी आयी है।

स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंह ने बताया कि मातृ एवं नवजात शिशु मृत्यु दर कम करने के उद्देश्य से राज्य शासन ने वर्ष 2005 में जननी सुरक्षा योजना आरंभ की थी। इसमें शासकीय अस्पताल में प्रसव कराने वाली ग्रामीण क्षेत्र की महिला को एक हजार चार सौ रुपये और शहरी क्षेत्र के शासकीय अस्पताल में प्रसव कराने वाली महिला को एक हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी जा रही है। शासकीय अस्पताल में प्रसव करवाने के लिए ग्रामीण महिला को प्रोत्साहित करने वाली आशा को छह सौ रुपये और शहरी क्षेत्र की आशा को चार सौ रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाती है।